Web Browser क्या है, और यह कैसे काम करता है? - HINDI WEB BOOK

Web Browser क्या है, और यह कैसे काम करता है?

Web Browser क्या है, और यह कैसे काम करता है?

Facebook
WhatsApp
Telegram
Web Browser क्या है, और यह कैसे काम करता है? Web Browser एक प्रकार का software application होता है, जिसके माध्यम से हम internet पर हर तरह की जानकारी को आसानी से प्राप्त कर सकते है। web browser का प्रयोग हम अपने smart phone, laptop और desktop के जरिये से भी कर सकते है। 
 
जब भी हमे कोई जानकारी प्राप्त करनी होती है, तो हम web browser में उसे टाईप करते है, जिससे हमे वह जानकारी web pages के रूप में प्राप्त होती है। यहाँ पर यह question आता की web browser क्या है? यह सब process किस प्रकार का होता है, इसके लिये हमे web browser को समझना होगा और इसके काम करने के process को भी समझना होगा।  
 
Web Browser क्या है
 

वेब ब्राउज़र क्या है? What is Web Browser in Hindi? 

Web Browser एक प्रकार का software होता है, जो इंटरनेट पर मौजूद चीजों में से आपके योग्य डाटा को खोजकर उसे आपकी भाषा में कन्वर्ट करके दिखता है। यह तो हम जानते है की प्रत्येक कंप्यूटर एक operating system को support करता है, जिसके तहत वह कार्य करता है। और हर computer में अलग-अलग system होते है, कोई windows को support करता है, तो कोई Linux और कोई Unix को support करता है।

इसीलिए प्रत्येक व्यक्ति और कंपनी अपनी आवश्यकताओं के अनुसार अपने operating system को स्थापित करते हैं। प्रत्येक operating system की programming भी अलग-अलग होती है, और उसका कार्य करने का तरीका भी अलग होता हैं। इंटरनेट के शुरुवाती दौर में अलग-अलग operating system का होना एक समस्या थी। जिससे एक system को दूसरे system से संचार स्थापित करने में समस्याएं आने लगीं। तभी एक ऐसी भाषा की आवश्यकता महसूस होने लगी, जो सभी systems को सामान रूप से support कर सके। यही से web browser के डेवलपमेंट की प्रक्रिया प्रारंभ हुई।

तब एक ऐसी भाषा का निर्माण किया गया जो सर्वमान्य हो और वह थी HTML (hyper text transfer protocol)। इस भाषा की programming को इस प्रकार design किया गया, जिसे सभी web browser आसानी से decode कर सके। अब सभी web browser एचटीएमएल भाषा को समझते है। शुरुवात के दिनों में web browser सिर्फ HTML system को ही support करते थे, लेकिन अब technology के विकास के साथ सभी web browser HTML जैसी अन्य दूसरी भाषाओं जैसे कि XHTML आदि को भी को support करने लगे है।

वेब ब्राउज़र कैसे काम करता है? How does a web browser work?

Web Browser कैसे काम करता है? एक web browser का मुख्य कार्य user द्वारा request की गई सभी सूचनाओ को प्राप्त करके उसे device पर उसकी भाषा में प्रदर्शित करना होता है।

इस प्रक्रिया की शुरूवात user द्वारा web browser में URL (uniform resource locater) को टाईप करने से होती है, जैसे कि उदहारण के लिये https://www.hindiwebbook.com/ है। यहाँ यह URL दो भागो में divide होता हैं, जिसमें पहला भाग होता है protocol और दूसरा भाग domain name होता है।

हम जो भी URL web browser में टाईप करते है, उसमे जो भी जानकारी होती है, वह सब HTML के रूप में server पर स्टोर होती है। यहाँ web browser, URL के HTML code को समझकर उसे आगे server तक पहुँचाता है, जहाँ से वह जानकारी वापिस हमे हमारे समझने योग्य भाषा में परिवर्तित होकर हमारे device पर दिखाई देती है। 

अब सभी browsers का programming system एक जैसा होता है, जिससे browser में मौजूद डेटा रेंडरिंग इंजन कुछ fixed web protocol के आधार पर ही कार्य करता है, जिससे इस process में एक समानता बनी रहती है।

वेब ब्राउज़र के महत्वपूर्ण विशेषताएं कौन से है? What are the important features of web browser?

ये सभी Components एक web browser की विभिन्न कार्यक्षमताओं को दर्शाते हैं और एक साथ एक web browser को सभी क्षमताएं प्रदान करते है:-
  • URL and Address Bar
प्रत्येक वेबसाइट का एक विशिष्ट address होता है, जिसे URL कहा जाता है (uniform resource locater)। यह एक मकान के पते की तरह है जो आपके browser को बताता है कि इंटरनेट पर कहां जाना है। जब आप web browser के एड्रेस बार में एक URL को टाइप करते हैं और अपने कीबोर्ड पर enter दबाते हैं, तो browser उस URL से जुड़े पेज को load कर देता है।
  • Link और Hyperlink 
जब भी आप किसी वेबसाइट पर कोई word या sentence देखते हैं जो नीले या नीले रंग में रेखांकित होता है, तो यह संभवतः एक hyperlink या link होता है। आप पहले से ही जान सकते हैं कि link कैसे काम करते हैं, भले ही आपने उनके बारे में पहले कभी नहीं सोचा हो। उदाहरण के लिए, नीचे दिए गए link पर click करने का प्रयास करें।
Web पर किसी चीज को navigate करने के लिए link का उपयोग किया जाता है। जब आप किसी link पर click करते हैं, तो वह आमतौर पर आपको एक अलग webpage पर ले जाएगा। आप यह भी देख सकते हैं कि जब भी आप किसी link पर जाते हैं तो आपका कर्सर हाथ के आइकन में बदल जाता है। अगर आपको यह आइकन दिखाई देता है, तो इसका मतलब है कि आपको एक link मिल गया है।
  • Navigation Button
Arrow का बटन जो पीछे और आगे आपको उन वेबसाइटों पर जाने की अनुमति देते हैं जिन्हें आपने हाल ही में देखा है। आप अपना हाल का इतिहास देखने के लिए दोनों में से किसी एक बटन को click और hold कर सकते हैं। यदि कोई वेबसाइट काम करना बंद कर देती है, तो रिफ्रेश बटन का उपयोग करके देखें।
  • Tabbed browsing 
कई web browser आपको एक नए टैब में link खोलने की अनुमति देते हैं। आप जितने चाहें उतने link खोल सकते हैं, और वे कई विंडो के साथ आपकी स्क्रीन को अव्यवस्थित करने के बजाय एक ही browser विंडो में रहेंगे। एक नए टैब में एक लिंक खोलने के लिए, लिंक पर राइट-क्लिक करें और नए टैब में लिंक खोलें का चयन करे।
  • Bookmarks and history
यदि आपको कोई ऐसी वेबसाइट मिलती है जिसे आप बाद में देखना चाहते हैं, तो सटीक वेब पता याद रखना कठिन हो सकता है। browser बुकमार्क, जिन्हें पसंदीदा के रूप में भी जाना जाता है, विशिष्ट वेबसाइटों को सहेजने और व्यवस्थित करने का एक शानदार तरीका है ताकि आप उन्हें बार-बार देख सकें। वर्तमान वेबसाइट को बुकमार्क करने के लिए बस स्टार आइकन को खोजें और चुनें।
आपका web browser आपके द्वारा देखी जाने वाली प्रत्येक साइट का इतिहास भी रखेगा। आपके द्वारा पहले देखी गई साइट को खोजने का यह एक और अच्छा तरीका है। अपना इतिहास देखने के लिए, अपनी browser setting खोलें—आमतौर पर ऊपरी-दाएं कोने में आइकन पर क्लिक करके—और browsing history को देखे।
  • Files को डाउनलोड करना
लिंक हमेशा दूसरी वेबसाइट पर नहीं जाते हैं। कुछ मामलों में, वे एक फ़ाइल की ओर इशारा करते हैं जिसे आपके कंप्यूटर पर डाउनलोड या स्टोर किया जा सकता है।
यदि आप किसी फ़ाइल के लिंक पर क्लिक करते हैं, तो यह स्वचालित रूप से डाउनलोड हो सकती है, लेकिन कभी-कभी यह डाउनलोड करने के बजाय आपके browser में ही खुल जाती है। इसे web browser में खुलने से रोकने के लिए, आप लिंक पर राइट-क्लिक करे और Save link as का चयन करे।
  • Images को Save करना
कभी-कभी आप किसी वेबसाइट से अपने कंप्यूटर पर एक Image को Save करना चाहते हैं। ऐसा करने के लिए, Image पर राइट-क्लिक करें और Image को Save करले।
  • Plug-ins
प्लग-इन छोटे एप्लिकेशन होते हैं जो आपको अपने web browser में कुछ खास प्रकार की सामग्री देखने की अनुमति देते हैं। उदाहरण के लिए, adobe flash और microsoft silverlight का उपयोग कभी-कभी वीडियो चलाने के लिए किया जाता है, जबकि adobe reader का उपयोग PDF फ़ाइलों को देखने के लिए किया जाता है।
यदि आपके पास किसी वेबसाइट के लिए सही प्लग-इन नहीं है, तो आपका browser आमतौर पर इसे डाउनलोड करने के लिए एक लिंक प्रदान करेगा। कई बार ऐसा भी हो सकता है कि आपको अपने प्लग-इन को अपडेट करने की आवश्यकता हो।
Web Browser क्या है
 

वेब ब्राउज़र का इतिहास क्या है? What is the history of web browsers? 

सबसे पहले 1991 में टिम बर्नर ली और निकोल पिल्लोव ने अपने तकनीकों सहयोगियों के साथ मिलकर web browser की नींव रखी। सबसे पहले इसका नाम world wide web रखा गया था, जिसे short form में www भी कहते हैं। web page को URL के रूप में locate किया जाता है, और इसी URL को web address के तौर पर जाना जाता है। इस web address की शुरुवात HTTP या HTTPS से होती है। कई browser ऐसे है जो HTTP के अलावा दूसरे URL type और उनके प्रोटोकॉल जैसे gofer और FTP को भी सपोर्ट करते हैं।

  • 1990: world wide web ,जो W3C के निदेशक टिम बर्नर्स-ली और उनके सहयोगियों द्वारा बनाया गया पहला browser था, फिर वास्तविक वर्ल्ड वाइड वेब से इसके अंतर को समाप्त करने के लिए इसका नाम बदलकर नेक्सस कर दिया। 
  • 1992: LYNX (लिंक्स ) यह एक प्रकार का Text पर आधारित browser था जो किसी भी प्रकार की ग्राफिक को नहीं दिखा सकता था। 
  • 1993: मोज़ेक एकमात्र पहला ऐसा browser था जो Images को  Text में Convert करने की अनुमति देता था, जिसने इसे सबसे अधिक लोकप्रिय browser बना दिया था।
  • 1994: मोज़ेक में कुछ महत्पूर्ण सुधार करके नेटस्केप नेविगेटर को Develop किया गया।
  • 1995: माइक्रोसॉफ्ट ने सबसे पहले internet explorer के रूप में web browser की शुरुआत की।
  • 1996: ओपेरा की 1994 में एक research program के रूप में शुरूवात की गई जिसे दो साल बाद सार्वजनिक किया गया। यह वो समय था जब यकीनन browsers battles की शुरुआत हुई। उसी समय IE 3 और नेविगेटर 3 ने web browser की नई क्षमताओं को आगे बढ़ाया।
  • 2003: Apple ने भी अपना browser सफ़ारी लांच किया जो मुख्य रूप से macintosh कंप्यूटर के लिए डिजाइन किया गया था।
  • 2004: मोज़िला ने अपना web browser firefox डिजाइन किया, जिसे नेटस्केप नेविगेटर के रूप में लॉन्च किया गया था।
  • 2007:  Apple ने अपने web browser सफ़ारी को मोबाइल web browser के रूप में लांच किया गया, जो कुछ ही समय में आईओएस मार्किट पर हावी हो गया।
  • 2008: Google ने भी अपना browser chrome मार्केट में Launch किया जिसने जल्द ही मार्किट पर अपना कब्जा कर लिया।
  • 2011: ओपेरा मिनी को मोबाइल browser मार्किट को ध्यान में रखते हुऐ जारी किया गया।
  • 2015: माइक्रोसॉफ्ट ने अपना नया browser edge गूगल को टक्कर देने के लिये लांच किया है।

मार्किट में उपस्थित वेब ब्राउज़र कौन से है? Which are the web browsers present in the market? 

• Google Chrome

• Mozilla Firefox

• Internet explorer

• Opera

• Torch

• Safari

• Maxthon

• RockMelt

• SeaMonkey

• Deepnet Explorer

• Avant Browser

• Epic Browser

• QupZilla Browser

• Yandex Browser

• Superbird

• SlimBrowser

• Wyzo Browser

• Camino

• NetGroove

• BlackHawk

Web Browser की Usability के आधार पर उनका Market Share का अवलोकन  

Web Browser क्या है
 

वेब ब्राउज़र पर अक्सर पूछे जाने वाले प्रश्न (Q & A) Frequently Asked Questions (Q&A) on Web Browsers

 

Q. Web Browser की परिभाषा क्या है?

A. Web Browser वर्ल्ड वाइड वेब पर सूचनाओं तक पहुंचने के लिए एक सॉफ्टवेयर एप्लीकेशन है। किसी भी वेबसाइट से users द्वारा requested जानकारी को पुनः प्राप्त करना web browser का कार्य है।

Q. Web Browser और Search Engine में क्या अंतर है?

A. Web Browser एक सॉफ्टवेयर एप्लिकेशन है जिसका उपयोग वेबपेजों से डेटा प्राप्त करने के लिए किया जाता है, जबकि search engine एक तरह की वेबसाइट होती है, जहां users जानकारी की search कर सकता है और उसी के आधार पर result स्क्रीन पर प्रदर्शित होते हैं। 

Q. सबसे अच्छा web browser कौन से हैं?

A. सबसे अधिक उपयोग किए जाने वाले web browser के उदाहरण नीचे दिए गए हैं:

Google Chrome

Internet Explorer

Mozilla Firefox

Opera

Netscape Navigator और world wide web जैसे web browser पहले थे, जिनका उपयोग आज available browsers से पहले किया जाता था।

Q. पहला web browser कब जारी किया गया था?

A. पहला web browser जिसने लोगो का ध्यान आकर्षित किया, वह था world wide web, जिसे 1990 में लॉन्च किया गया था।

अंत में निष्कर्ष 

इस आर्टिकल “Web Browser क्या है, और यह कैसे काम करता है।” के माध्यम से web browser से सम्बंधित सभी आवश्यक जानकारियों को देने का प्रयास किया गया है।आशा है की यह जानकारी हिंदी वेब बुक के पठकों के लिये काफी उपयोगी सिद्ध होगी और web browser से सम्बंधित जो भी प्रश्न उनके मष्तिष्क में होंगे उनका निवारण इस लेख के माध्यम से अवश्य हो जायेगा ऐसी हमारी अपेक्षा है। हमारे प्रयास को और निखारने के लिये हमे आपके सुझाव और मार्गदर्शन की आवश्यकता रहती है, उसके लिये आप हमे कमेंट बॉक्स में अवश्य लिखे। आपका धन्यवाद! 

HINDI WEB BOOK

HINDI WEB BOOK

हिंदी वेब बुक अपने प्रिय पाठकों को बहुमूल्य जानकारियाँ उपलब्ध कराने के लिये समर्पित है, हम अपने इस कार्य में उनके समर्थन और सुझाव की अपेक्षा करते है, ताकि हमारा यह प्रयास और बेहतर हो सके।

Leave a Comment

View More Post