टिहरी झील: जो एक ग्लोबल टूरिस्ट डेस्टिनेशन बन चुका है। - HINDI WEB BOOK

टिहरी झील: जो एक ग्लोबल टूरिस्ट डेस्टिनेशन बन चुका है।

टिहरी झील: जो एक ग्लोबल टूरिस्ट डेस्टिनेशन बन चुका है।

Facebook
WhatsApp
Telegram
टिहरी झील: एक ग्लोबल टूरिस्ट डेस्टिनेशन, उत्तराखंड भारत का एक अति सुन्दर प्रदेश, जिसे देव भूमि भी कहाँ जाता है। यहाँ की खूबसूरत वादियाँ सबको आकर्षित करती है, इस प्रदेश में ऐसे कई स्थान है जो Tourism Destination के हिसाब से काफी महत्वपूर्ण है। इन्ही Destination में से एक है टिहरी झील। टिहरी गढ़वाल क्षेत्र में एक अति सुंदर वीकेंड के लिये एक गंतव्य स्थल है। यह स्थान प्रकृति सुंदरता के साथ और एकांत प्रेमियों के लिए एकदम सही है, जो शहर की भीड़ भाड़ से भरे जीवन से कुछ समय के लिये छुट्टी लेना चाहते हैं।

टिहरी झील: एक ग्लोबल टूरिस्ट डेस्टिनेशन

उत्तराखंड के पर्यटन विभाग ने इस स्थान को साहसिक और उत्साही लोगों के लिए इसे एक विश्व स्तरीय पर्यटन के आकर्षण के रूप में विकसित किया है। जिसे आने वाले भविष्य में इस स्थान को एक ग्लोबल टूरिस्ट डेस्टिनेशन के रूप में विकसित किया जा रहा हैं, उत्तराखंड का पर्यटन विभाग इस मेगाप्रोजेक्ट पर निरंतर कार्य कर रहा है।


टिहरी झील का इतिहास क्या है?  

टिहरी झील का इतिहास टिहरी बांध के निर्माण से जुड़ा हुआ है। टिहरी बांध का निर्माण 1978 में शुरू हुआ। जिसे भागीरथी नदी पर बनाया गया है, जो भारत सरकार की एक बड़ी योजना है। इस बांध ने यूएसएसआर द्वारा प्रदान की गई तकनीकी और वित्तीय सहायता के साथ निर्माण किया गया है। जिसे भारत सरकार ने 2006 में पर्यावरणीय विरोध और राजनीतिक विरोध के बावजूद इसका निर्माण पूरा करने में कामयाब रही है।

  • टिहरी झील के बारे में

टिहरी झील 1,700 मीटर की ऊंचाई पर स्थित एक कृत्रिम बांध जलाशय है, जो टिहरी बांध के निर्माण के दौरान अस्तित्व में आया था। जब भागीरथी नदी के पानी को बांध के जलाशय को भरने के लिए इस और मोड़ दिया गया था। जिसमे एक पुरातन टिहरी शहर भी इस झील में समा गया है।

 

अपने निर्माण के बाद से ही, टिहरी झील पर्यटकों और यात्रियों के बीच एक लोकप्रिय नौका विहार स्थल के रूप में स्थापित हो गया है। जो लोग शांति की तलाश कर रहे हैं, और प्रकृति के बीच अपना कुछ समय बिताना चाहते हैं, उनके लिये यह एक सर्वोत्तम Destination है। दिल्ली और एनसीआर क्षेत्रों के करीब होने से यह स्थान Weekends में एक सबसे अधिक पसंद किया जाने वाला क्षेत्र बन गया है।

टिहरी झील पर क्यों जाएं?

टिहरी झील अपनी प्राकृतिक सौन्दर्य के चलते यह धीरे-धीरे और लगातार रोमांच को चाहने वालों लोगो के लिए एक साहसिक गंतव्य स्थान बन गया है। साहसिक पर्यटन को बढ़ावा देने और उसे प्रोत्साहित करने के लिए, सरकार ने भी टिहरी झील को पूर्ण विकसित करने और उसे एक साहसिक खेल क्षेत्र में बदलने की योजना बनाई है, जिसमें हवाई खेल और भूमि के खेल के साथ-साथ एड्रेनालाईन-राइजिंग वाटर स्पोर्ट्स को भी शामिल किया जायेगा।

टिहरी झील: एक ग्लोबल टूरिस्ट डेस्टिनेशन

नौका विहार, राफ्टिंग और कयाकिंग के साथ, टिहरी झील में कुछ अद्भुत पानी के खेल भी पर्यटकों के लिये भी उपलब्ध होंगे। निकट भविष्य में वॉटर ज़ोरिंग, कैनोइंग, स्कूबा डाइविंग, स्पीडबोट राइड, जेट स्की, वॉटर स्कीइंग और मोटरबोट राइड जैसो खेलो की भी पेश की जाएंगी। 

इसके अतिरिक्त लोकप्रिय हवाई खेल जैसे हॉट एयर बलून और पैराग्लाइडिंग के साथ-साथ पैराशूटिंग का भी रोमांच चाहने वाले पर्यटकों के लिए यह सब उपलब्ध कराया जाएगा। टिहरी झील के साथ इस क्षेत्र में अन्य साहसिक खेल जैसे रॉक क्लाइम्बिंग, ट्रेकिंग और माउंटेन बाइकिंग भी उपलब्ध हैं।

  • टिहरी झील का नया परिदृश्य 

उत्तराखंड जो न केवल देवताओं की भूमि है, बल्कि यह नदियों और पहाड़ों की भूमि भी है। टिहरी उत्तराखंड में भागीरथी और भिलंगना नदियों के संगम पर स्थित एक छोटा सा शहर था। लेकिन अब यह शहर एक बड़े जलग्रहण क्षेत्र को बनाने के लिए पानी में डूब गया है और इस तरह से पुरानी टिहरी शहर अब टिहरी झील बन गया है। 

टिहरी झील एशिया की सबसे बड़ी मानव द्वारा निर्मित झील है। टिहरी शहर को टिहरी बांध के निर्माण के लिये उपयुक्त जगह को बनाने के लिए इसे खाली कर दिया गया था, और इसकी सारी आबादी को एक नई टिहरी शहर में स्थानांतरित कर दिया गया है।

आप हमारे इन आर्टिकल्स को भी देख सकते है

जिस समय टिहरी बांध को भारत सरकार द्वारा बनाया गया था, उस समय उत्तराखंड की राज्य सरकार इस प्रसिद्ध टिहरी झील को एक एडवेंचर टूरिज्म में बदलने का विचार कर रही थी। टिहरी झील में जेट स्कीइंग से लेकर हॉट एयर बैलून राइड तक ऐसी कई अलग-अलग और विविध गतिविधियाँ को शामिल करने का फैसला किया गया था। 

एडवेंचर स्पोर्ट्स के नाम पर हमारे देश के लोगों के पास कुछ सीमित ही विकल्प थे और वे अपनी एडवेंचर की प्यास को बुझाने के लिए अक्सर दूसरी जगहों पर जाते थे, लेकिन अब यह सब बदलने वाला है। भारत में भी कई प्रकार के साहसिक खेलों के उदय के साथ, उत्तराखंड सरकार इस प्रसिद्ध टिहरी झील को एक प्रमुख साहसिक पर्यटन स्थल के रूप में में बदलने की योजना बना रही है।

यहाँ टिहरी झील में शामिल एडवेंचर्स गतिविधियों की सूची दी गई है।   

  • नौका विहार

  • जेट स्पीड बोअर राइड

  • वाटर स्कीइंग

  • Zorbing

  • केले की नाव की सवारी

  • बैंडबाजे की सवारी

  • हॉटडॉग की सवारी

  • पैराग्लाइडिंग

टिहरी झील में जाने के लिये सबसे अच्छा समय कौन सा है? 

टिहरी झील की यात्रा का सबसे अच्छा समय अप्रैल से जून के गर्मियों के महीनों में होता है।

टिहरी झील: एक ग्लोबल टूरिस्ट डेस्टिनेशन


  • टिहरी झील का स्थान

टिहरी झील निकट कोटि कॉलोनी (नई टिहरी शहर से लगभग 15 किलोमीटर) की दुरी पर स्थित है।

टिहरी झील तक आप कैसे पहुंच सकते है?  

हवाई मार्ग से: जॉली ग्रांट हवाई अड्डा सबसे निकटतम हवाई अड्डा है, जो टिहरी झील से 91 किमी की दूरी पर स्थित है। जॉली ग्रांट एयरपोर्ट से टिहरी झील के लिए आसानी से टैक्सी उपलब्ध हो जाती हैं। जॉली ग्रांट हवाई अड्डा दैनिक उड़ानों के साथ दिल्ली से अच्छी तरह से जुड़ा हुआ है। न्यू टिहरी शहर भी जॉली ग्रांट हवाई अड्डे के साथ मोटर योग्य सड़कों द्वारा भी अच्छी तरह से जुड़ा हुआ है।

रेल द्वारा: रेल मार्ग के द्वारा नई टिहरी शहर के लिये सबसे निकटतम रेलवे स्टेशन ऋषिकेश में स्थित है। ऋषिकेश भारत के प्रमुख स्थलों के साथ रेलवे नेटवर्क द्वारा अच्छी तरह से जुड़ा हुआ है। नई टिहरी शहर भी ऋषिकेश के साथ मोटर योग्य सड़कों के द्वारा अच्छी तरह से जुड़ा हुआ है। ऋषिकेश से नई टिहरी शहर के लिए टैक्सी और बसें बड़ी आसानी से उपलब्ध हो जाती हैं। 

सड़क मार्ग से: नई टिहरी शहर भारत के उत्तराखंड राज्य के सभी शहरो और उत्तरी राज्यों के प्रमुख स्थलों के साथ मोटर योग्य सड़कों से अच्छी तरह से जुड़ा हुआ है। नई टिहरी के लिए बसें और टैक्सी उत्तराखंड के प्रमुख स्थलों जैसे देहरादून, मसूरी, ऋषिकेश, हरिद्वार, देवप्रयाग, श्रीनगर, उत्तरकाशी के साथ-साथ नई दिल्ली से भी आसानी से उपलब्ध हो जाती हैं।

आप हमारे इन आर्टिकल्स को भी देख सकते है

HINDI WEB BOOK

HINDI WEB BOOK

हिंदी वेब बुक अपने प्रिय पाठकों को बहुमूल्य जानकारियाँ उपलब्ध कराने के लिये समर्पित है, हम अपने इस कार्य में उनके समर्थन और सुझाव की अपेक्षा करते है, ताकि हमारा यह प्रयास और बेहतर हो सके।

Leave a Comment

View More Post