शहद का उपयोग करने के फायदे और नुकसान क्या है? - HINDI WEB BOOK

शहद का उपयोग करने के फायदे और नुकसान क्या है?

शहद का उपयोग करने के फायदे और नुकसान क्या है?

Facebook
WhatsApp
Telegram

शहद का उपयोग करने के फायदे और नुकसान क्या है? शहद जो एक गाढ़ा, चिपचिपा और मीठा स्वाद देने वाला तरल है जिसमे आयरन, कैल्शियम और मैग्नीशियम जैसे खनिजों सम्मिलित होते है। शहद केवल एक फूल का पराग है जिसे मधुमक्खियों द्वारा बदल दिया जाता है। नेशनल हनी बोर्ड के अनुसार, शहद वसा रहित, कोलेस्ट्रॉल मुक्त, सोडियम मुक्त और सही मायनों में प्रकृति का एक मीठा अमृत है।  


honey ke health benefit and side effect


क्या आप जानते हैं कि लगभग 60,000 मधुमक्खियां, सामूहिक रूप से 55,000 मील तक की यात्रा करने और 2 मिलियन से अधिक फूलों का दौरा करने के बाद, एक पाउंड शहद बनाने के लिए पर्याप्त पराग इकट्ठा कर पाती हैं? एक बार जब इतना अमृत (पराग) इकट्ठा हो जाता है, तो मधुमक्खी इसे अपने अतिरिक्त पेट में जमा कर लेती है। 

जहां यह एंजाइम के साथ मिश्रित होता है, और फिर इसे दूसरी मधुमक्खी के मुंह में भेज दिया जाता है। इस प्रक्रिया को तब तक दोहराया जाता है जब तक कि अमृत आंशिक रूप से पच नहीं जाता है और फिर इसे एक छत्ते में जमा कर दिया जाता है। फिर इस तरल अमृत को मधुमक्खी अपने पंखो से पंखा करती है, जिससे उसमे मौजूद पानी वाष्पित होकर एक गाढ़े तरल (शहद) के रूप में बदल जाता है।

शहद का उपयोग करने के फायदे क्या है? What are the benefits of using honey? 

  • प्राकृतिक ऊर्जा का स्रोत्र 

शहद एक प्राकृतिक ऊर्जा का स्रोत्र होता है इसमें FAT की मात्रा नहीं होती है इसलिये अपनी चाय और काफी में शक्कर और मिठास के बजाय शहद का उपयोग करना चाहिये। इसमें मौजूद प्राकृतिक शर्करा भी व्यायाम के दौरान शरीर को थकान से रोकती हैं, इसलिए यह एथलेटिक के प्रदर्शन में सुधार के लिए काफी अच्छा है।

 

शहद में मौजूद ग्लूकोज को शरीर द्वारा जल्दी से अवशोषित कर लिया जाता है, जिससे तत्काल ऊर्जा को बढ़ावा मिलता है, जबकि फ्रुक्टोज निरंतर ऊर्जा प्रदान करता है क्योंकि यह अधिक धीरे-धीरे अवशोषित होता है। शहद भी अन्य प्रकार की चीनी की तुलना में रक्त शर्करा (Blood Sugar) के स्तर को स्थिर रखने के लिए उपयोगी पाया गया है।

  • खांसी का इलाज करता है

एक अध्ययन के अनुसार, बस दो चम्मच शहद एक लगातार हो रही खांसी को ठीक करने में मदद कर सकता है। इसके रोगाणुरोधी गुणों न केवल गले को भिगोते है, बल्कि कुछ बैक्टीरिया को भी मारते है जो संक्रमण का कारण बनते है। यदि आप सीधे शहद खाने की इच्छा नहीं रखते हैं, तो इसे आप गर्म पानी में मिलाकर ले सकते हैं।  

  • नींद में सुधार

क्या आप पूरी रात जागते रहते हैं और ठीक से नहीं सो पाते है, तो जल्दी से सो जाने के लिए आप दूध और शहद का उपयोग कर सकते है। इसके लिये आपको बस एक गिलास गर्म दूध में एक चम्मच शहद मिलाना है। हनी सेरोटोनिन (एक न्यूरोट्रांसमीटर जो आपके मनोदशा में सुधार करता है) को रिलीज़ करता है, और “शरीर सेरोटोनिन को मेलाटोनिन (एक रासायनिक यौगिक जो नींद की लंबाई और गुणवत्ता को नियंत्रित करता है) में परिवर्तित करता है”। इसका निरंतर सेवन आपको नींद की समस्या से निजाद पाने में मदद करता हैं।

  • घाव और जलन का इलाज करता है

शहद ज्यादातर ग्लूकोज और फ्रुक्टोज से बना होता है जो घावों पर लगाने पर पानी को सोख लेता है। यह चिकित्सा को बढ़ावा देने में मदद करता है, जिससे यह घावों, जलन और कटौती के लिए एक प्राकृतिक प्राथमिक उपचार है। शहद के एंटीसेप्टिक गुण कुछ बैक्टीरिया के विकास को रोकते हैं और बाहरी घावों को संक्रमण से मुक्त रखने में मदद करते हैं। यह सूजन, दर्द और यहां तक ​​कि दाग को कम करने में मदद करता है।

  • इम्यूनिटी को बढ़ाने में मदद करता है 

हनी में मौजूद एंटीऑक्सिडेंट और जीवाणुरोधी गुण हमारे शरीर के पाचन तंत्र को बेहतर बनाने और उसकी प्रतिरक्षा को बढ़ाने में मदद करते हैं। यह एंटीऑक्सिडेंट हमारे शरीर का एक पावरहाउस भी है, जो शरीर से मुक्त कणों को हटाने के लिए बहुत ही प्रभावी हैं। “अपने दिन की शुरुआत एक कप गर्म पानी में एक चम्मच शहद और नींबू का रस (आधा नींबू से) मिलाकर करें।

  • हैंगओवर को ठीक करता है

यदि हैंगओवर के कारण भारी सिर, तेज प्यास, मतली की लहरें, आ रही हो तो इससे बचने के लिये कुछ चम्मच शहद आपके शरीर के चयापचय को गति देने में मदद करेगा और आपको हैंगओवर से निपटने में मदद करेगा, क्योंकि फ्रुक्टोज यकृत द्वारा शराब के ऑक्सीकरण को गति देने में मदद करता है। New York मेडिकल सेंटर ने यह खुलासा किया है कि शहद लेने से मौखिक रूप से, “शराब को पचाने की शरीर की क्षमता में वृद्धि करता है, जिससे नशा सीमित हो जाता है और शराब के रक्त के स्तर में तेजी से कमी आती है।”

  • दिल की बीमारियों को रोकता है

प्राकृतिक शहद का सेवन करने से हमारे रक्त में पॉलीफेनिक एंटीऑक्सिडेंट की मात्रा को बढ़ावा मिलता है जो हृदय रोगों को रोकने में काफी मदद करता है। यह कोलेस्ट्रॉल के स्तर को कम करने में भी मदद कर सकता है।

  • हनी फोर वेट लॉस

सुबह सबसे पहले शहद के साथ गुनगुना पानी और चूने का एक छींटा एक प्रभावी एंटी-सेल्युलाईट उपचार है, क्योंकि यह शरीर के पाचन क्रिया को बढ़ाने में मदद करता है। शहद आपकी भूख को नियंत्रित करने में मदद करता है। यदि आप सोने से पहले शहद का सेवन करते हैं, तो सोने के शुरुआती घंटों में शरीर अधिक वसा जलाने लगता है।

honey ke health benefit and side effect

  • शानदार त्वचा के लिए शहद का प्रयोग 

शहद एक शानदार प्राकृतिक मॉइस्चराइज़र भी है जो सूखी त्वचा के पैच को भरने के लिये अद्भुत तरीके से काम करता है। आप इसका इस्तेमाल अपने घुटनों और कोहनियों को मुलायम रखने के लिए भी कर सकते हैं, यहाँ तक कि होंठों पर भी कर सकते हैं। ठंड के महीनों के दौरान, बस अपने चेहरे पर कुछ शहद रगड़ें और 30 मिनट के बाद धो लें। आप इससे एक मॉइस्चराइजिंग स्क्रब भी बना सकते हैं – आपको बस इतना करना है कि कुछ शहद और वॉयला मिलाएं, यह मिश्रण एक प्राकृतिक एक्सफोलिएटर के रूप में काम करता है।

 

  • डैंड्रफ का इलाज करता है

यूरोपियन जर्नल ऑफ मेडिकल रिसर्च के एक अध्ययन के अनुसार, शहद रूसी को लक्षित करके खोपड़ी में अस्थायी राहत ला सकता है। अध्ययन में यह पाया गया है कि शहद को 10 प्रतिशत गर्म पानी के साथ समस्या वाले क्षेत्रों में लगाने और रिन्सिंग से पहले तीन घंटे तक छोड़ने से खुजली से राहत मिलेगी और एक सप्ताह के भीतर इससे राहत मिल जायेगी। इसके प्रयोग से त्वचा के घाव दो सप्ताह के भीतर ठीक हो जाते है और रोगियों ने बालों के झड़ने में भी सुधार दिखाई देता है।

  • रेशमी बालों के लिए शहद

शहद बालों को मॉइस्चराइज़ करने और खोपड़ी को साफ करने के लिए, एक प्राकृतिक एजेंट के रूप में कार्य करता है, जो आपको प्राकृतिक तेलों से अलग किए बिना रेशम जैसे चिकने बाल देता है। इसके लिये आप अपने सामान्य शैम्पू में एक चम्मच शहद जोड़ें या अपने बालों को शैम्पू से धोने से पहले 20 मिनट के लिए डीप कंडीशनिंग ट्रीटमेंट के लिए शहद और जैतून के तेल से मालिश करे।

शहद के सेवन से नुकसान क्या है? What are the disadvantages of consuming honey? 

1.) शहद के फायदे अब आप सभी को पता हैं लेकिन इसके सेवन से कुछ नुकसान भी हो सकते हैं। आइये जानते हैं कि शहद को किन परिस्थितियों में या किन चीजों के साथ मिलाकर सेवन नहीं करना चाहिए।

2.) अधिक मात्रा में इसके सेवन से बचें, अधिक मात्रा में सेवन करने से उल्टी आना और कुछ मामलों में डायरिया की शिकायत भी हो सकती है।

3.) एक साल से कम उम्र के बच्चे को ना खिलाएं शहद इससे बच्चों में बोटुलिज़्म (Botulism) का खतरा हो सकता है। इसलिए बच्चे को शहद खिलाने से पहले डॉक्टर की सलाह जरूर लें।



4.) यदि आपको पराग कणों से एलर्जी है तो इसके सेवन या उपयोग से परहेज करना चाहिए अन्यथा एलर्जी और बढ़ सकती है।

5.) यदि आपकी त्वचा बहुत संवेदनशील है तो सीधे तौर पर शहद न लगाएं, बल्कि इसे गुलाब जल या दूध में मिलाकर ही त्वचा पर लगाएं। 

6.) डायबिटीज के मरीज शहद का सेवन नहीं करना चाहिये इससे आपका आपका शुगर लेवल अनियंत्रित हो सकता है। मधुमेह के मरीज को शहद का सेवन करने से पहले डॉक्टर की सलाह ज़रुर लेनी चाहिये। 

7.) यदि आप पहले से हाई ब्लड प्रेशर की दवाइयां ले रहे हैं तो रोजाना शहद खाने के दौरान अपना ब्लड प्रेशर ज़रुर चेक करते रहें।

8.) आयुर्वेद के अनुसार घी और शहद की समान मात्रा का एक साथ सेवन नहीं करना चाहिये, इसे विरुद्ध आहार की श्रेणी में रखा गया है।

9.) गर्भावस्था और स्तनपान के दौरान आप इसका शहद का सेवन सीमित मात्रा में ही करें। अगर आप शहद का सेवन औषधि के रुप में करना चाहती हैं तो स्त्री रोग विशेषज्ञ की सलाह के अनुसार करें।

10.) गुनगुने पानी में शहद मिलाकर पीते समय हमेशा इस बात का ध्यान रखना चाहिये कि पानी एकदम खौलता हुआ नहीं होना चाहिए और ना ही कभी शहद को पानी में डालकर उबालें क्योंकि ये भी विरुद्ध आहार की श्रेणी में आता हैं। इसलिए शहद को हमेशा हल्के गुनगुने पानी या सामान्य तापमान वाले पानी के साथ ही प्रयोग करें।


अंत में निष्कर्ष

हमनें इस लेख के माध्यम से आपको “शहद का उपयोग करने के फायदे और नुकसान क्या है?के बारें में सम्पूर्ण जानकारी देने प्रयास किया गया है, हमे पूरी उम्मीद है यह जानकारी आपके लिये काफी उपयोगी साबित होगी यदि इस आर्टिकल से सम्बन्धित आपके पास कोई सुझाव हो तो कमेंट बाक्स के माध्यम से आप उसे हम तक पंहुचा सकते है। आप इस जानकारी को अपने दोस्तों और सोशल मिडिया पर जरूर शेयर करे। आपका धन्यवाद!

HINDI WEB BOOK

HINDI WEB BOOK

हिंदी वेब बुक अपने प्रिय पाठकों को बहुमूल्य जानकारियाँ उपलब्ध कराने के लिये समर्पित है, हम अपने इस कार्य में उनके समर्थन और सुझाव की अपेक्षा करते है, ताकि हमारा यह प्रयास और बेहतर हो सके।

Leave a Comment

View More Post