वेबसाइट का Bounce Rate क्या है और कितना होना चाहिए? - HINDI WEB BOOK

वेबसाइट का Bounce Rate क्या है और कितना होना चाहिए?

वेबसाइट का Bounce Rate क्या है और कितना होना चाहिए?

Facebook
WhatsApp
Telegram

किसी वेबसाइट का Bounce Rate क्या है और यह कितना होना चाहिए? यदि आप इसके बारे में नहीं जानते है तो आज इस आर्टिकल के माध्यम से इसके बारे में जानेगे। यदि आपका अपना कोई Blog या Website है तब तो निश्चित रूप से आप Bounce Rate के बारे में थोडा बहुत जरुर जानते होंगे। यदि आप Google Analytics में  अपने Blog का Graph, Page Per Visitors Check करते होंगे तब तो आप वहाँ पर Bounce Rate को भी जरुर देखते होंगे।

Bounce Rate क्या है
 

लेकिन क्या आप यह जानते है की जब आपकी Site का Bounce Rate Average से भी ज्यादा होता है, तो इसका असर आपके Blog की Authority और उसकी Rank पर होने लगता है। क्यूंकि यदि किसी भी Site का Bounce Rate अगर ज्यादा होता है तो इसका सीधा मतलब यह की वो Site User के लिए अच्छी नहीं है और यदि आपका Site भी इसी स्थिति में है तब तो ये आपके Site के लिए अच्छी खबर नहीं है।

लेकिन यदि आपका Blog या Website एकदम नई है तो Bounce Rate का ज्यादा होना आम बात है, लेकिन अगर वह पुरानी है तब उसका Bounce Rate ज्यादा होना ठीक नहीं है। लेकिन इसके लिए परेशान होने की जरुरत नहीं है आज इस आर्टिकल में उन सब Tricks का विस्तार से वर्णन करेंगे जिससे आप यह जान पाएंगे की Site का Bounce Rate क्या है और यह कितना होना चहिये ताकि आप इसे सही कर सके।  

Bounce Rate क्या है? What is Bounce Rate in Hindi? 

Bounce Rate क्या है? तो इसे इस प्रकार समझिये, यदि आप अपने Blog या Website के Search Performance को बढ़ाने का पूरा प्रयास कर रहे हो लेकिन वह नहीं हो पा रहा है तो इसके पीछे मुख्य कारण है आपके ब्लॉग/वेबसाइट का Bounce Rate जिसे सबसे पहले आपको कम करना चाहिए। इसमें कही ना कही आपसे कोई चूक हुई है।

Bounce Rate को आप ऐसे समझिये, जब कोई Visitor आपके Website पर आता है और आपके Entrance Page पर Visit करता है और बिना किसी दूसरे Page पर Visit किये वह वापस चला जाता है, तो सरल भाषा में इसे Bounce बोला जाता है। 

लेकिन टेक्निकल भाषा में Bounce Rate का मतलब होता है Visitors का Percentage जो की आपके Webpage पर Visit करते हैं और किसी दुसरे Webpage पर Visit किये बिना ही वापस चले जाते हैं। अगर ऐसा हो रहा है तो इसका मतलब यह है की आपकी Website या Blog के Post का Content ज्यादा Interesting नहीं है जिसे आपको सुधारने की आवश्यकता हैं।

Bounce Rate क्या है

इसके अलावा दूसरा कारण यह भी हो सकता है की आपके Website या Blog का Design कुछ ख़ास नहीं है, Heading में Attractive Keywords का प्रयोग नहीं किया गया है। यही वो कारण हो सकते है जिनसे Bounce Rate ज्यादा हो सकता है जिससे आपकी Website पर Visitors कम होने लगते है। Visitor कम होने से Website या Blog की Rank कम होने लगती है और इसका असर Monetization पर भी पड़ता है।

Bounce Rate क्या है इसे हम एक Example से समझने का प्रयास करते है। Let us try to understand what is Bounce Rate with an example.

यदि किसी Website या Blog का Bounce Rate केवल 45% आ रहा हैं, तो हम यह अनुमान लगाते है की उस Website में 45% Visitor इस प्रकार के हैं जो केवल Page पर Visit करते है और फिर तुरंत ही Exit ले लेते हैं। इसका अर्थ यह की उन्हें वहां पढने लायक कुछ मिला ही न हो, ऐसा होने के कई कारण हो सकते हैं। अब इसके लिए हमे यह जानना होगा की Bounce Rate कितना होना चाहिए?

Bounce Rate कितना होना चाहिए? What should be the bounce rate?

अब तक आप यह समझ गए होंगे की Bounce Rate क्या होता है। अब हम इस बात पर चर्चा करेंगे की किसी Website का Bounce Rate कितना होना अच्छा माना जाता है।

इसे ठीक प्रकार से समझने के लिए इसे चार हिस्सों में बाँटा गया है।

  • 1% से लेकर 10%
  • 10% से लेकर 40%
  • 40% से लेकर 70%
  • 70% से अधिक  

1% से लेकर 10% के अंदर यदि किसी Blog का Bounce Rate आता है तो उसे सबसे कामियाब Websites माना जायेगा लेकिन यह लाखो में कोई एक ही Website ऐसी होती है। अगर 10% से लेकर 40% तक आता है तो भी उसे अच्छा माना जायेगा।

वहीँ यदि Bounce Rate 40% से लेकर 70%, तक आता है जिसमे अधिकतर Website शामिल होती हैं, तो इसे इतना अच्छा नहीं माना जाता है, लेकिन यह काम चलने लायक तो है ही। यदि हम उन सभी Websites की बात करें जिनका Bounce Rate 70% से लेकर 80% तक है तो उन Websites को किसी भी तरह से अच्छा नहीं माना जायेगा, इस CATEGORY में सबसे ज्यादा Websites आती है।

Bounce Rate क्या है
 
अब यह जानते है की वह कौन-कौन सी कमियां है जिनकी वजह से Bounce Rate ज्यादा हो जाता है। लेकिन यदि आप यह सोच रहे हैं की क्या सभी प्रकार की Websites के Bounce Rate भी समान होते हैं, तो ऐसा बिलकुल नहीं है। क्योकि अलग-अलग तरह की Websites के लिए Bounce Rate का मापदंड भी अलग-अलग होता हैं। यहाँ पर निचे कुछ आंकड़ों को दिया गया है जो आपको इस विषय को समझने में साहयता प्रदान करेंगे, जो इस प्रकार हैं:-
 

 Type of Website

 Bounce Rate

 Content Websites

 40-60%

  Lead Generating Websites

 30-50%

 Blogs Websites

 70-98%

 Retail Websites

 20-40%

 Service Provide Websites

 10-30%

  Landing Page Websites

 70-90%

 

किन कमियों की वजह से किसी Website या Blog का Bounce Rate ज्यादा हो जाता है, यही वो कुछ गलतियाँ जो एक Blogger आम तोर पर करता है, जिसपे ध्यान देना बहुत आवश्यक है। 

  • Website या Blog का Loading Time का अधिक होना।
  • Single Page Website का होना।
  • Content की Quality का ख़राब होना।
  • Internal link का सही इस्तेमाल ना करना। 
  • Effective Keywords का प्रयोग ना करना।
  • अपनी Niche के अनुसार User को Target ना करना।
  • Website या Blog का Design का User Friendly ना होना।
  • Content Formatting का गड़बड होना। 
  • Content में सही Heading का ना होना। 

Bounce Rate को कम कैसे करे? How to reduce Bounce Rate?

अब हम उन Points का ध्यान रखेंगे जिनसे आप Bounce Rate को कम कर सकते है:-

  • Website को सही तरीके से डिज़ाइन करे 

जो चीज़ दिखने में अच्छी लगती है उसकी और आप आसानी से Attract हो जाते हैं। ठीक वैसे ही यदि आपकी Website या Blog दिखने में अच्छा और उसका Navigation Proper हो तो Visitors उस Website की और अपने आप आने लगते है और उनको वहाँ Content पढना भी अच्छा लगता है, जिससे Google PageRank भी बढ़ता है।

जब भी आप अपनी कोई Website या Blog को Design करे तो उसका Color Combination अच्छा होना बहुत जरुरी है। आपको यह समझना होगा की कोन सा Color आपकी Website पर अच्छा लगेगा। Font Color और Text Size का चुनाव सही से करे। कोशिश करे की Website का Design जितना Simple और User Friendly हो उतना अच्छा है।

  • वेबसाइट का Loading Time सही रखे

अगर आपकी Website का Page Loading Time अधिक है, तो उस पर आता हुआ Visitors आपके Blog पर पहुंचने से पहले ही Exit ले लेगा। इस पर ध्यान देना बहुत जरुरी क्योकि यह SEO के लिए भी बहुत आवश्यक है।

 Website Page Loading Time 

 1 Second <

 Perfect

 1 Second < 3 Second

 Above Average

 3 Second < 7 Second

 Average

 7 Second >

 Vary Poor

 

यदि आपको अपने Visitors की संख्या को बढ़ाना है तो Page Loading Time को Perfect या फिर Above Average तक सिमित रखें।

  • अच्छी Quality का Content लिखे 

अगर आपकी Website पर Good Quality वाला Content हैं तो यह आपकी Website को एक Brand के रूप में स्थापित करने में काफी मददगार साबित होगी। परन्तु आपका Content यदि Good Quality का नहीं होगा तो Visitor आपकी Website से वापिस जाने लगेंगे। 

इसलिए Valuable Content को लिखे और सही Information को दे। यह बात ध्यान रखें की आपके Content का Size कम से कम 500 से 1000 Word का होना चाहिए और उसमे Simple भाषा का इस्तेमाल करें जिससे Visitor उसे आसानी से समझ सके। Good Quality Content आपकी Website का Bounce Rate कम करने में निश्चित रूप से मददगार होगा।

  • Heading में कीवर्ड का इस्तेमाल करे  

अक्सर Bloggers ये गलती कर बैठते हैं की वो Clickbait Headings का प्रयोग करते हैं जो की बिलकुल भी सही नहीं है। आपने जो Heading दिया है और वो आपके Visitor को समझ में ही नहीं आ रहा है, तो उससे उसका भरोसा कम हो जाएगा। 

इसे इस प्रकार समझे की अगर एक Visitor आपकी Site पर आया और उसने Article को अच्छे से पढ़ा लेकिन उसके बाद वह दूसरे Article के Heading को पढ़कर वापस चला गया। इससे आपकी Website का Bounce Rate ज्यादा हो जाएगा। इसलिए अपने Heading और Content को Updated रखें, तथा Attractive Keywords का प्रयोग करे, इससे आपका Content Google में Rank जल्दी हो जाएगा।

  • Content Formatting पर ध्यान दे 

अपने Content की Formatting पर जरूर Focus करे, आपका Content जितने अच्छे तरीके से लिखा होगा उतना ही किसी Visitor को उसे समझने में आसानी होगी जो Bounce Rate को Maintain करने का एक फैक्टर है। जब आप अपनी Post को Edit करे तो उसमे Tag का इस्तेमाल जरूर करे। ज्यादा लंबा चौड़ा Paragraph नहीं लिखना चाहिए जिससे Visitor उसे पढ़ने में Boring Feel ना करे। 

कुछ अच्छे Points को Bold जरूर करे, इससे Visitor का Focus बढेगा, और साथ ही सही तरीके से Formatted Contents को पढने में उसकी रूचि बढ़ेगी।

  • ब्लॉग पोस्ट में Internal Links को ऐड करे  

Post के बिच में अगर आप Internal Link का प्रयोग नहीं करते तो आपका Bounce Rate बढ़ जायेगा। ऐसा इसलिए होता है क्योकि जब Visitor आपका Contents पढ़ लेंगा और उसमे कोई Internal Link नहीं होने से वह उसे बंद करके Exit लेलेगा। 

और यदि आप अपनी Post कोई Related Internal Link लगाते है तो उससे Content को पढने का समय बढ़ जाता है और Post से Related कुछ Internal Link होने से वह दूसरी Post पर जा सकता है जिससे वह Website पर अधिक समय बिताएगा।

इसलिए अब यह आपके विवेक पर निर्भर करता है आप अपने Content में कौन सा Internal Link Add करते है, क्योकि यह आपकी Website का Bounce Rate कम करने में मददगार साबित होगा।

  • Internal Link हमेशा नये वेबपेज पर खुलना चाहिए 

यह बात जरूर ध्यान रखे की जब आप अपनी Post में कोई Internal Link डाल रहे हो तो वहां Click करने पर तुरंत एक नया Page खुलना चाहिए। जिससे जब कोई Visitor जिस Article को पढ़ रहा था वो भी एक Tab में Open रहे और साथ ही दूसरा नया Tab खुल जाये। यह भी Bounce Rate को कम करता है।

  • ब्लॉग को Mobile Friendly बनाये 

आज के समय में Mobile Users की सख्या सबसे ज्यादा हैं, इसलिए हमें अपने Website या Blog को Mobile Friendly जरूर बनाना चाहिए। आपका Blog जितना अधिक Mobile Friendly होगा उतना ही Visitor की संख्या को Increase करेगा और आपकी वेबसाइट का Bounce Rate भी सही रहेगा। आज कम से कम 50% Visitors Mobile User होते हैं, इसलिए यह जरुरी की आपकी Website या Blog का Template Mobile Friendly होना चाहिए।

Bounce Rate को कैसे चेक करें? How to Check Bounce Rate? 

आज Internet पर कई ऐसी Sites Available हैं जहाँ पर आप Bounce Rate को आसानी से Check कर सकते है। लेकिन इसके Google Analytic और Alexa दो सबसे ज्यादा विश्वसनीय Tool माने जाते है।

  • Bounce Rate को ALEXA पर चेक करें 

Alexa पर आपको Bounce Rate को Check करने के लिए सबसे पहले www.alexa.com/siteinfo को Open करना होगा फिर Search Box में अपने Domain Address को Type करे तथा Find Button को Hit करें। यह आपकी Website की सभी Details को बता देगा।

  • Alexa Rank
  • Audience Geography
  • Visitors Engagement (Daily Page Views Per Visitor and Daily Engagement Time on Site)
  • Top Keyword from Search Engine
  • Total Sites Linking in
  • Related Sites
इस प्रकार आप Alexa पर अपनी वेबसाइट की रैंक और बाउंस रेट को चेक कर सकते है
  • Bounce Rate को Google Analytics पर चेक करें 

Google Analytics पर आप Daily, Monthly या Weekly जब भी चाहे आप अपनी Website का Traffic Record Check कर सकते हैं। यहाँ Option में यह आपको Bounce rate भी दिखता है, इसलिए Blog का Google Analytics से Connect होना बहुत जरूरी है।

Exit Rate क्या होता है? What is exit rate in hindi?

Exit Rate क्या है? इसके लिए अपने Google Analytics में बायीं ओर Reports का Section जरूर देखा होगा, वहां पर आपको एक Behavior का ऑप्शन दिखेगा। जब आप Behavior पर क्लिक करेगे तो Overview का ऑप्शन आयेगा, इसपर क्लिक करके आप अपनी Website या Blog का Exit Rate आसानी से Check कर सकते हैं।

क्या है Bounce Rate और इसे कैसे सही रखे।

Blog और Website दोनों पर ही 1 से अधिक Pages होते हैं। अगर हम किसी साधारण Website की बात करें तो उसमें भी 15 से 20 Page जरूर होंगे। लेकिन Blog में Pages की संख्या काफी अधिक होती है। Blog पर जितने भी Article को Publish किया जाता हैं उन्हें एक ही Page माना जाता हैं।

इसे ऐसे समझते है, मान लीजिये कोई विजिटर आपके Blog के किसी एक Page पर Land करता है और उसके बाद वह अन्य 2, 3, 4, 5 पेज पर जाता है। यदि वह 1st Landing Page से ही बाहर निकल जाता है तो उसे Bounce कहते है। किन्तु जब वह 1st Landing Page से 2nd page, 3rd page या 4th page.. Visit करने के बाद बाहर निकलता है तो उसे Exit कहा जाता है।

यानिकि Exit के Case वह 1st Landing Page को छोड़कर किसी दूसरे Inner Page से Out होगा। उम्मीद है आप समझ गए होंगे की एग्जिट रेट क्या है?

बाउंस रेट और एग्जिट रेट में क्या अंतर् है? What is the difference between bounce rate and exit rate? 

Bounce Rate और Exit Rate में क्या अंतर् है इसे सरल भाषा में समझते है मान लीजिए आपकी वेबसाइट पर 100 विजिटर ने विजिट किया और उसमे से 50 विजिटर बिना किसी दूसरे पेज पर गये सीधे वेबसाइट से बहार निकल गए तो ऐसी स्थिति में आपका Bounce Rate 50% होगा, जो की ब्लॉग के लिए गलत है।  

लेकिन अगर 50 विजिटर अन्य दूसरे पेज पर विजिट करने के बाद वेबसाइट से बहार जाते है तो ऐसी स्थिति में आपकी साइट का Exit Rate 50% होगा जो की अच्छा माना जाता है। अब आप Bounce Rate और Exit Rate के अंतर् को समझ गए होंगे।    

अंत में निष्कर्ष  

हमनें इस लेख के माध्यम से आपको “वेबसाइट का Bounce Rate क्या है और यह कितना होना चाहिए?” के बारें में सम्पूर्ण जानकारी देने प्रयास किया गया है, हमे पूरी उम्मीद है यह जानकारी आपके लिये काफी उपयोगी साबित होगी यदि इस आर्टिकल से सम्बन्धित आपके पास कोई सुझाव हो तो कमेंट बाक्स के माध्यम से आप उसे हम तक पंहुचा सकते है। आप इस जानकारी को अपने दोस्तों और सोशल मिडिया पर जरूर शेयर करे। आपका धन्यवाद!

HINDI WEB BOOK

HINDI WEB BOOK

हिंदी वेब बुक अपने प्रिय पाठकों को बहुमूल्य जानकारियाँ उपलब्ध कराने के लिये समर्पित है, हम अपने इस कार्य में उनके समर्थन और सुझाव की अपेक्षा करते है, ताकि हमारा यह प्रयास और बेहतर हो सके।

0 thoughts on “वेबसाइट का Bounce Rate क्या है और कितना होना चाहिए?”

Leave a Comment

View More Post