Cracked Heels से 100% राहत पाने के लिए आजमाये घरेलू उपाय।

0
22
Cracked Heels Remedies in Hindi

Cracked Heels से राहत पाये, आजमाये ये कुछ सरल घरेलू उपाय। खूबसूरत दिखना सबको अच्छा लगता है इसलिये हम अपने शरीर को सुन्दर बनाने के लिये तरह तरह के उपाय करते है। लेकिन कभी कभी हम अपने शरीर की सुंदरता में एक हिस्से को भूल जाते है और वो है हमारे पाँव।

लेकिन यदि ध्यान से देखा जाए तो हमारे शारीरिक को आकर्षण बनाने में हमारे चेहरे के साथ हमारे पांव की भी भूमिका होती है। इसलिए, हमे अपने पांव से जुड़ी हुई समस्याओं पर भी ध्यान देना चाहिये। पैरो की फटी ऐड़ियो से सबसे ज्यादा महिलाएं परेशान रहती हैं। इसलिये आज हम इस लेख “फड़ी ऐड़ियो से राहत पाये, आजमाये कुछ सरल उपाय” के माध्यम से बताने का प्रयास करेंगे।

Cracked Heels Remedies in Hindi 

अक्सर ठंड के दिनों में ही एड़ियों के फटने की समस्या अधिक होती है। एड़ियों फटने के साथ साथ उनमे पड़ी दरारे धीरे धीरे बढ़ने लगती है जिससे कई बार एड़ियों में सूजन के साथ दर्द का होने तथा जिसके कारण चलने फिरने में काफी परेशानी होने लगती हैं। अगर समय रहते इनका ईलाज न किया जाये तो धीरे धीरे यह समस्या बढ़ने लगती है और तब एड़ियों में दर्द के अलावा उनसे खून तक आना शुरू हो जाता है। इसलिये समय रहते हमे इसका उपचार अवश्य कर लेना चाहिये।

Cracked Heels के क्या कारण होते है?  

फटी हुई एड़ियों का उपाय करने से पहले यह जरूरी है की हमे उसके होने के कारण पता चले क्योकि तभी हम सही तरीके से फटी हुई एड़ियों का उपचार कर पाएंगे।

Cracked Heels Remedies in Hindi

——-Cracked Heels Remedies in Hindi——-

  • मौसम का ज्यादा शुष्क होना भी इसका कारण है। इससे त्वचा पर असर पड़ता है।
  • मोटापा भी इसकी एक वजह है। इससे शरीर का पूरा भार पैरों पर पड़ता है, जिससे एड़िया फट सकती हैं।
  • बहुत देर तक चलने या किसी एक ही जगह पर बहुत देर तक खड़े रहने से भी एड़ियां फट सकती हैं।
  • एड़ियां फटने का एक मुख्य कारण डायबिटीज भी हो सकता हैं।
  • अधिकतर ऐड़िया फटने में बिना चप्पल पहने चलना रहना, ज्यादा देर तक सैंडल को पहनना, एक ही तरह के फुटवियर को ज्यादा पहनना, कड़ी चप्पल या ऐसे जूते पहनना जिसकी फिटिंग सही न हो।

Cracked Heels के लिये कुछ घरेलु उपचार क्या है? Cracked Heels Home Remedies in Hindi? 

——-Cracked Heels Remedies in Hindi——-

अक्सर सर्दियों का मौसम आते ही हमारे पैरों को नुकसान पहुंचाना शुरू हो जाता है खासकर के हमारी एड़ियों को। एड़ियां फटने को सबसे बड़ा कारण होता है कैल्शियम और चिकनाई की कमी का होना। पौष्टिक तत्व न मिल पाने की वजह से भी एड़ियां रूखी और खुरदुरी हो जाती है। लेकिन यहाँ आपको कुछ ऐसे नुस्खे बता रहे है जिन्हें अपनाकर आप फटी एड़ियों की समस्या से छुटकारा पा सकते हैं।

  • पैरों को साफ व खूबसूरात बनाए रखने के लिए कभी कभी पैडिक्योर करना बेहद जरूरी होता है, क्योंकि इससे नाखून, एड़ी और तलवों की अच्छी तरह से सफाई हो जाती है।
  • शहद का इस्तेमाल आपकी त्वचा को कोमल बनाये रखने में मदद करता है, इसके लिए सबसे पहले आपको आधा कप शहद को पानी को मिलाकर लगभग 20 मिनट तक उसमें अपने पैरो को डुबोकर रखना चाहिये, इसके बाद पैरो को साफ तोलिये से पोछ ले।
  • जैतून के तेल में चीनी को मिलाकर एक मिश्रण तैयार कर ले। उसके बाद उस मिश्रण से पैरो पर धीरे धीरे रब करे और थोड़ी देर के लिए ऐसे ही छोड़ दे फिर गिले तोलिये से पैरो को साफ कर ले।

Cracked Heels Remedies in Hindi

——-Cracked Heels Remedies in Hindi——-

  • सरसों के तेल का इस्तेमाल भी आपके पैरो को मुलायम बनाये रखने में मदद करता है। इसके लिए नहाते समय पैरो की एड़ियो की अच्छी तरह से सफाई करके फिर सारसों के तेल से मालिश करे।
  • देसा घी और नमक को मिलाकर फटी हुई एड़ियों पर लगाने से भी त्वचा मुलायम होती है। इस मिश्रण का इस्तेमाल आप अपने हाथों के लिये भी कर सकते है।
  • मोम और सेंधा नमक को मिलाकर उपयोग करने से भी फटी एड़ियों को ठीक किया जा सकता है।
  • नहाने के बाद पैरों में तेल लगाने की आदत को डाल ले और रात को सोते समय भी यह उपाये करे क्योंकि ऐसा करने से आपके पैर साफ और सुंदर दिखाई देंगे।
  • कच्चे आम को पीसकर उसे फटी हुई एड़ियो पर लगाकर मालिश करने से भी जल्द ही फटी हुई एड़ियां सही होने लगती है।
  • नीबू का इस्तेमाल भी फटी ऐडियो के लिये असरदार होता है, इसलिये हफ्ते में एक बार नीबू के रस में पानी को मिलाकर अपने पैरो को जरूर धोए।
  • पिसी हुई मेंहदी भी फटी ऐडियो में काफी असरदार होती है, इसको एड़ियों पर लगाने से स्कीन मुलायम हो जाती है।

——-Cracked Heels Remedies in Hindi——-

अंत में 

हमनें इस लेख के माध्यम से आपको ‘फड़ी ऐड़ियो से राहत पाये, “Cracked Heels से 100% राहत पाने के लिए आजमाये घरेलू उपाय।” के बारें में सम्पूर्ण जानकारी देने प्रयास किया गया है, हमे पूरी उम्मीद है यह जानकारी आपके लिये काफी उपयोगी साबित होगी। 

यदि इस आर्टिकल से सम्बन्धित आपके पास कोई सुझाव हो तो कमेंट बाक्स के माध्यम से आप उसे हम तक पंहुचा सकते है। आप इस जानकारी को अपने दोस्तों और सोशल मिडिया पर जरूर शेयर करे। आपका धन्यवाद! 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here