Inbound Marketing और Outbound Marketing के अंतर को कैसे समझे?

0
469
Inbound मार्केटिंग और Outbound मार्केटिंग

Inbound Marketing और Outbound Marketing के अंतर को कैसे समझे? आज इस पोस्ट में हम ऐसे मार्केटिंग चैनल के बारे में जानने वाले हैं, जिसका इस्तेमाल जाने-अनजाने हर ब्लॉगर करता है। लेकिन बहुत कम लोगों के पास इसका नाम और इसके बारे में पूरी जानकारी होती है। आज के ऑनलाइन मार्केट में हर जगह इसका खूब इस्तेमाल हो रहा है। 

इनबाउंड मार्केटिंग क्या है? What is Inbound Marketing in hindi? 

Inbound मार्केटिंग और Outbound मार्केटिंग के अंतर को समझने से पहले हमे Inbound Marketing क्या है उसे समझना होगा। इनबाउंड मार्केटिंग, मार्केटिंग का एक ऐसा तरीका है, जो ग्राहकों को उनके अनुरूप मूल्यवान सामग्री और अनुभव प्रदान करके उन्हें आकर्षित करता है। सीधे शब्दों में कहें तो इनबाउंड मार्केटिंग संभावित ग्राहकों को आपकी कंपनी खोजने में मदद करने की प्रक्रिया है। Inbound Marketing कनेक्शन बनाने, सवालों के जवाब देने और समस्याओं को हल करने के बारे में है।

हम Inbound Marketing को कंटेंट मार्केटिंग भी कह सकते हैं, क्योंकि Inbound Marketing लगभग कंटेंट मार्केटिंग के अनुरूप ही है। इनबाउंड मार्केटिंग में, ग्राहक खरीदारी करने के लिए तैयार है, हमें बस उसे अपने उत्पाद की ओर आकर्षित करना है। इनबाउंड मार्केटिंग में ब्लॉग पोस्ट, सोशल मीडिया, इन्फोग्राफिक्स, ईमेल न्यूज़लेटर्स और अन्य प्रकार की सामग्री शामिल है, जिसे लोग पढ़ना पसंद करते हैं।

Inbound Marketing और Outbound Marketingइनबाउंड मार्केटिंग में, कंपनी का ध्यान संभावित खरीदारों पर रहता है, जो उनके पास आते हैं। कंपनियां ग्राहकों के बीच संबंध विकसित करने और लीड उत्पन्न करने के लिए नए तरीके आजमाती हैं। इसके लिए क्वालिटी कंटेंट बनाना जो लोगों को आपके बिजनेस और ब्रांड की ओर आकर्षित करे। ये तरीके आपको ग्राहकों के लिए आकर्षक बनाते हैं, क्योंकि वे लोगों को यह महसूस नहीं कराते हैं, कि उन्हें कुछ बेचा जा रहा है। 

इनबाउंड मार्केटिंग में, शैक्षिक, मनोरंजन और ऐसी सामग्री ग्राहकों को उपलब्ध कराई जाती है। Inbound Marketing का सबसे अच्छा हिस्सा यह है, कि Inbound Marketing में पूरी तरह से ऑर्गेनिक लीड होते हैं, इसलिए यह बजट से ज्यादा दिमाग पर निर्भर करता है।

इनबाउंड क्या है? Inbound in Hindi.

इनबाउंड क्या है? आइये इसे समझते है इनबाउंड की प्रक्रिया एक प्रकार की अपेक्षाकृत नई मार्केटिंग पॉलिसी है जहां पर दिलचस्प संभावित ग्राहकों को कंटेंट के द्वारा “खींचने” का प्रयास किया जाता हैं। यह प्रक्रिया संभावनाओं को प्रदर्शित करती है जिनके द्वारा वह संभावित ग्राहकों को अपनी और आकर्षित करती है, इनबाउंड प्रक्रिया में ब्लॉग पोस्ट, सोशल मीडिया, इन्फोग्राफिक्स, श्वेत पत्र, ईमेल न्यूज़लेटर्स और अन्य सामग्री बनाना शामिल होता है जिसे लोग वास्तव में पढ़ना चाहते हैं।

इनबाउंड प्रक्रिया बहुत ही व्यावहारिक और अप्रत्यक्ष होती है: इसमें कभी भी ध्यान देने योग्य बिक्री पिच नहीं होती है। इनबाउंड प्रक्रिया ग्राहकों को ब्रांड के साथ जुड़ाव बढ़ाकर बिक्री दर को बढ़ाती है। इसके उदाहरण यहां दिये गये है। 

इनबाउंड मार्केटिंग के उदाहरण – Examples of inbound marketing

ब्लॉग पोस्ट, उत्पाद समीक्षा, सोशल मीडिया अभियान (फेसबुक, यूट्यूब, ट्विटर आदि), ईबुक, एसईओ, वीडियो सामग्री, गूगल विज्ञापन।

आउटबाउंड मार्केटिंग क्या है? What is outbound marketing in hindi? 

हम Inbound Marketing को समझ चुके है अब Inbound मार्केटिंग और Outbound मार्केटिंग के अंतर को सही से समझने से पहले हमे आउटबाउंड मार्केटिंग क्या है इसे भी समझना होगा? आउटबाउंड मार्केटिंग में, हमें उपयोगकर्ताओं को विज्ञापन देखने के लिए मजबूर करना पड़ता है, भले ही वह पीपीसी (Pay-Per-Click) मार्केटिंग हो, फिर भी जब आप एक अभियान चलाते हैं, तो आपको उपयोगकर्ता पर निर्भर रहना पड़ता है।

Inbound Marketing और Outbound Marketing

चाहे ईमेल मार्केटिंग ही क्यों न हो, कई बार देखा गया है कि आपका जीमेल स्पैम फोल्डर्स में चला जाता है, तो आप कैसे उम्मीद कर सकते हैं, कि आपके विज़िटर ग्राहकों में बदल जाएंगे, यह आपकी आउटबाउंड मार्केटिंग प्रक्रिया थी जो लोग करते थे। लेकिन अब वह समय बदल चुका है, जैसे ही हबस्पॉट ने इनबाउंड मार्केटिंग की शुरुआत की, मार्केटिंग चैनलों में एक क्रांति आ गई।

आउटबाउंड क्या है? Outbound in Hindi. 

आउटबाउंड प्रक्रिया वह है जिसे Push and Pull के रूप में जाना जाता था। यहाँ आप अपने आपको दर्शकों पर खुद को धकेलते है, चाहे वह दर्शक इसे चाहें या नहीं। जैसे टीवी और रेडियो विज्ञापन, टेलीमार्केटिंग, बैनर और डिस्प्ले विज्ञापन, बिलबोर्ड, समाचार पत्र और पत्रिका विज्ञापन, कोल्ड कॉलिंग, पॉप-अप और पॉप-अंडर, और प्रासंगिक विज्ञापन आउटबाउंड प्रक्रिया के सभी उदाहरण हैं। 

पिछले 10 वर्षों में आउटबाउंड प्रक्रिया काफी कम हो गई है। विशेष रूप से इंटरनेट पर – लोगों ने प्रदर्शन विज्ञापन को अनदेखा करना शुरू कर दिया। प्रदर्शन विज्ञापनों के लिए क्लिकथ्रू दरें अब निराशाजनक रूप से 0.05% पर हैं।  

आउटबाउंड मार्केटिंग के उदाहरण – Examples of outbound marketing

टीवी विज्ञापन, रेडियो विज्ञापन, समाचार पत्र आदि।

Inbound मार्केटिंग और Outbound मार्केटिंग

इनबाउंड मार्केटिंग और आउटबाउंड मार्केटिंग में अंतर – Difference between inbound marketing and outbound marketing 

 इनबाउंड मार्केटिंग

 आउटबाउंड मार्केटिंग

1. Inbound Marketing, आपके व्यवसाय और वेबसाइट को गुणवत्ता सामग्री जैसे ब्लॉग,सोशल मीडिया, वीडियो,पॉडकास्ट और ईबुक के माध्यम से बढ़ावा दिया जाता है।

1. Outbound Marketing में, आपके व्यवसाय को विभिन्न प्रकार के विज्ञापनों जैसे टीवी विज्ञापनों, रेडियो विज्ञापनों, होल्डिंग्स, होर्डिंग, समाचार पत्रों और पत्रिकाओं के माध्यम से बढ़ावा दिया जाता है। 

2. Inbound Marketing, मार्केटिंग की एक नई अवधारणा है।

2. आउटबाउंड मार्केटिंग, मार्केटिंग का एक पारंपरिक तरीका है, जो अब पुराना हो चुका है।

3. Inbound Marketing इच्छुक ग्राहकों और पाठकों को आकर्षित करती है।

3. आउटबाउंड मार्केटिंग हर किसी को आकर्षित करने की कोशिश करता है, चाहे उसमें किसी की दिलचस्पी हो या न हो।

4. कंटेंट उपभोक्ता की जरूरतों को लक्षित करके बनाया जाता है।

4. यहाँ उत्पाद को लक्षित करके कंटेंट बनाया जाता है। 

5. ग्राहकों को आकर्षित करता है। ग्राहक खुद अपनी जरूरत के हिसाब से प्रोडक्ट के लिए आपके पास आता है।

5. इसमें ग्राहक को खोजना पड़ता है।

6. Outbound Marketing की तुलना में Inbound Marketing अधिक प्रभावी है।

6. यह Inbound Marketing से कम प्रभावी है। 

7. इसमें अधिक लाभ है क्योंकि लक्षित दर्शक हैं।

7. इसमें Inbound Marketing से मुनाफा कम होता है।

अंत में 

 इस लेख के माध्यम से हमने आपको “Inbound मार्केटिंग और Outbound मार्केटिंग के अंतर को कैसे समझे?” के बारे में पूरी जानकारी देने का प्रयास किया है, हमें पूरी उम्मीद है कि अगर आपके पास इस लेख से संबंधित कोई जानकारी है तो यह जानकारी आपके लिए बहुत उपयोगी साबित होगी। अगर कोई सुझाव है तो आप कमेंट बॉक्स के जरिए हम तक पहुंच सकते हैं। आप इस जानकारी को अपने दोस्तों और सोशल मीडिया पर जरूर शेयर करें। धन्यवाद!
 
सम्बंधित जानकारियाँ 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here