वेबसाइट की Domain Authority (DA) क्या है, और इसे कैसे बढ़ाएं?

0
45
Domain Authority

Domain Authority क्या है, What is domain authority in Hindi? अगर आप यह जानना चाहते हैं की DA क्या है? तो यह पोस्ट आपके लिए है। इंटरनेट पर हर दिन हजारों नई वेबसाइटें बनती हैं, और इन सभी वेबसाइट के निर्माता दिन-रात कोशिश करते रहते हैं कि कैसे उनकी वेबसाइट इंटरनेट की दुनिया में लोगों के सामने आए और अपनी खुद की पहचान बनाए।

किसी भी वेबसाइट की सफलता में एक सबसे बड़ा फैक्टर उस वेबसाइट की domain authority या कहे DA होती है। इसके लिए ब्लॉगर कई तरीके अपनाकर धीरे-धीरे आगे बढ़ते हैं, उनका एक ही लक्ष्य होता है कि वे अपनी वेबसाइट को गूगल के पेज में सबसे ऊपर बनाएं। इंटरनेट पर ऐसी कई वेबसाइट हैं, लेकिन उनमें से कुछ ही ज्यादा लोकप्रिय हैं। 

जितने भी ब्लॉगर होते हैं, वे SEO और उससे जुड़े टर्म्स जैसे बैकलिंक्स, गूगल पेज रैंक आदि के बारे में भी जानते हैं। जिसके इस्तेमाल से वे अपनी वेबसाइट को सर्च इंजन पर अच्छी रैंक पर ला सकते हैं ताकि उनकी साइट पर ट्रैफिक आए और उनकी वेबसाइट का DA बढ़ जाये। और वे इसके माध्यम से अच्छी कमाई करने में सक्षम होंगे। 

डोमेन अथॉरिटी क्या है? What is domain authority in Hindi? 

वेबसाइट को अच्छी रैंक देने के लिए SEO से संबंधित सभी टर्म बहुत जरूरी होते हैं और उन्हीं में से एक है domain authority जिसके बारे में बहुत कम लोग जानते हैं और अगर हम इस पर ध्यान न दें तो यह ब्लॉग के लिए भी बहुत जरूरी है। तो google के पेज पर आपकी साइट की स्थिति का बहुत गहरा प्रभाव पड़ेगा। यदि हम किसी शब्द का अर्थ समझ लें तो उस शब्द को परिभाषित करना बहुत आसान हो जाता है। हम domain authority के मामले में भी ऐसा ही कर सकते हैं।

Domain Authority शब्द दो शब्दों से मिलकर बना है- पहला डोमेन और दूसरा अथॉरिटी। यहाँ domain का अर्थ है आपकी वेबसाइट का नाम (जैसे मेरी वेबसाइट का नाम hindiwebbook.com) और अथॉरिटी का अर्थ है – Status या Reputation (Domination/Reputation)। यानी हम कह सकते हैं कि domain authority (DA) को दुनिया की सबसे बड़ी और सबसे पुरानी Search Engine Optimization (SEO) कंपनी MOZ ने बनाया है। यह 1 से 100 के पैमाने पर एक वेबसाइट की स्थिति को Google में मापता है, जिसके आधार पर हम यह पता लगा सकते हैं कि किसी भी वेबसाइट के गूगल में रैंक होने की संभावना कितनी है।

यह भी ध्यान देने योग्य है कि domain authority का पैमाना लॉगरिदमिक प्रवृत्ति का होता है, यानी आपकी वेबसाइट का डीए 1 से 10 तक बढ़ाना उतना मुश्किल नहीं है जितना कि इसे 11 से 20 तक ले जाना; इसी तरह अपना DA 11 से 20 तक ले जाना उतना मुश्किल नहीं है जितना 21 से 30 तक ले जाना।

डोमेन अथॉरिटी का इतिहास क्या है? What is the history of Domain Authority?  

इसका इतिहास: DA को करीब एक दशक पहले Moz कंपनी ने लॉन्च किया था। इसके बाद Moz ने अपना पहला अपडेट पिछले साल मार्च 2019 में ही निकाला, जिसे उन्होंने domain authority 2.0 नाम दिया।

Domain Authority

DA के अलावा SEO में और भी कई मेट्रिक हैं जैसे Semrush कंपनी का authority score (AS), Ahrefs (Hrefs) का domain rating (DR) और Ubersuggest का domain score (DS) कुछ ऐसे ही SEO metrics हैं। लेकिन इन सब में से Moz की domain authority सबसे सटीक और विश्वसनीय मानी जाती है। इसलिए ज्यादातर लोग इसका इस्तेमाल ज्यादातर करते हैं। 

पेज अथॉरिटी (PA) क्या है? What is Page Authority (PA)?

Page Authority (PA) सबसे लोकप्रिय सर्च इंजन का एक आधिकारिक एल्गोरिदम है जो Google है, जो यह तय करता है कि कौन सा पेज सर्च में सबसे पहले दिखाना है।

अगर आपकी वेबसाइट के वेबपेज का page authority अच्छा है तो गूगल इसे पहले पेज पर दिखाएगा, अब आप यह जान ही गए होंगे कि page authority क्या होता है।

डोमेन अथॉरिटी और पेज अथॉरिटी में अंतर क्या है? What is the difference between Domain Authority and Page Authority?

Domain Authority (DA) किसी भी domain और sub-domain की अनुमानित Moz रैंकिंग पावर को मापता है, इसके विपरीत, पेज अथॉरिटी (PA) किसी वेबसाइट के सिंगल वेब पेज की शक्ति को मापता है।

  • Blog का DA/PA कैसे चेक करें? How to check DA/PA of Blog?

Domain Authority को इन दिनों कई वेबसाइट के SEO टूल्स और ऑनलाइन प्लेटफॉर्म में शामिल किया गया है। आप URL Explorer के MOZ Free SEO Tool या किसी अन्य keyword explorer के SERP विश्लेषण का उपयोग करके किसी भी वेबसाइट के domain authority की जांच कर सकते हैं।

  • डोमेन अथॉरिटी कैसे चेक करें? How to check domain authority?

इंटरनेट पर बहुत से टूल्स उपलब्ध हैं, जिनके इस्तेमाल से आप अपनी वेबसाइट की domain authority को जान सकते हैं। लेकिन हम सबसे अच्छे domain authority checker tool का उपयोग करेंगे और Moz open site explorer एक बहुत अच्छा टूल है जहाँ जब आप अपनी साइट का डोमेन एड्रेस लिखते हैं, तो यह टूल आपको आपका नवीनतम DA स्कोर दिखाएगा।

किसी वेबसाइट की domain authority रैंक किस आधार पर दी जाती है यह कोई नहीं जानता। यह केवल Moz कंपनी को पता है जिसने इसका आविष्कार किया था। Moz का सिस्टम किसी विशेष domain को रैंक करने के लिए 40 विभिन्न कारकों की जाँच करता है जैसे कि आपका domain कितना पुराना है, आपकी साइट में कितने लिंक जुड़े हुए हैं, आपको कितनी उच्च DA वेबसाइट से लिंक मिल रहे हैं आदि। ऐसा करने से, Moz वेबसाइट को रैंक देने के लिए 40 कारकों की जाँच करता है।

किसी वेबसाइट का DA कभी भी स्थिर नहीं होता है या तो वह बढ़ता है या घटता है। अगर आपकी वेबसाइट का DA बढ़ रहा है तो यह आपके लिए काफी फायदेमंद साबित होगा अगर DA कम हो रहा है तो यह बहुत बुरा संकेत है। इसके लिए आपको अपने ब्लॉग का DA बढ़ाने के लिए और अधिक मेहनत की आवश्यकता है।

वेबसाइट डोमेन अथॉरिटी (DA) को कैसे बढ़ाएं? How to Increase Website Domain Authority (DA)? 

कुछ ऐसे तरीके हैं जिनकी मदद से आप अपनी साइट/ब्लॉग का DA बढ़ा सकते हैं-

  • अपनी साइट पर गुणवत्ता वाले बैकलिंक्स की संख्या बढ़ाएँ।
  • किसी को स्पैम न करें।
  • अपनी साइट की लोडिंग गति बढ़ाएँ।
  • साइट के bounce rate को कम करने का प्रयास करें।
  • अपनी सामग्री को इतना जानकारीपूर्ण और रोचक बनाएं कि लोग आपकी साइट पर लंबे समय तक रहें ताकि साइट पर आपका औसत समय बढ़ सके।
  • नियमित रूप से ब्लॉग को अपडेट करते रहें यानी नई पोस्ट लिखते रहें।
  • अपनी वेबसाइट से bad/toxic बैकलिंक्स को हटाने का प्रयास करें।
  • अपनी पोस्ट को सोशल मीडिया पर शेयर करें और साथ ही अपने कंटेंट को इतना अच्छा बनाएं कि लोग आपकी पोस्ट को शेयर भी करें।

यदि कई लोग आपकी साइट को ब्राउज़र में टाइप करके सीधे आते हैं, तो google इसे आपकी साइट की लोकप्रियता और विश्वसनीयता का एक बड़ा कारक मानता है। इससे google में आपकी रैंकिंग बढ़ती है और साथ ही आपकी domain authority भी बेहतर होती है। 

आखिरी और सबसे महत्वपूर्ण चीज हैं धैर्य रखना। क्योकि google या कोई अन्य सर्च इंजन नई साइटों पर बिल्कुल भी भरोसा नहीं करता है। वह कई महीनों तक उनकी गतिविधियों पर नज़र रखता है और फिर इस आधार पर निर्णय लेता है कि किसी साइट को खोज में कितनी प्राथमिकता देनी चाहिए। 

इसलिए समय के साथ अगर आप लगातार अच्छा काम करते रहते हैं तो आपका DA, PA, page rank, Moz rank, Alexa rank और जो भी रैंक होती हैं वो अपने आप सुधर जाती हैं और आपको उन्हें मैन्युअल रूप से मैन्युपुलेट करने की भी जरूरत नहीं होती है। इसलिए जितना हो सके अच्छा कंटेंट लिखें, DA समय के साथ अपने आप बढ़ता जायेगा।

अंत में  

इस लेख के माध्यम से हमने आपको “वेबसाइट की Domain Authority (DA) क्या है, और इसे कैसे बढ़ाएं?” के बारे में पूरी जानकारी देने का प्रयास किया है, हमें पूरी उम्मीद है कि अगर आपके पास इस लेख से संबंधित कोई जानकारी है तो यह जानकारी आपके लिए बहुत उपयोगी साबित होगी। अगर कोई सुझाव है तो आप कमेंट बॉक्स के जरिए हम तक पहुंच सकते हैं। आप इस जानकारी को अपने दोस्तों और सोशल मीडिया पर जरूर शेयर करें। धन्यवाद!