ब्लॉगर पर Google Web Stories कैसे बनाये? Google Web Stories for Blogger in Hindi!

1
658
ब्लॉगर पर Google Web Stories कैसे बनाये?

Google Web Stories, गूगल द्वारा जारी किया गया एक ऐसा टूल है जिसकी मदद से कोई भी ब्लॉगर कम समय में अपनी वेबसाइट पर अधिक आर्गेनिक ट्रैफ़िक को प्राप्त कर सकता है, यह ठीक उसी तरह काम करता है जैसे YouTube शॉर्ट्स में होता है, इसलिए हम यह कह सकते हैं कि यह यूट्यूब शॉर्ट्स की तरह ही है।

एक सामान्य ब्लॉग पोस्ट की तुलना में Web Stories को बहुत तेजी से Notice किया जाता है, इसी कारण गूगल ने वेब स्टोरीज़ को 2018 में लॉन्च किया है तो क्यों ना आप गूगल के इस टूल का उपयोग करें। आप Google Web Stories का उपयोग अपने ब्लॉग पर आर्गेनिक ट्रैफ़िक लाने और पैसे कमाने के लिए भी कर सकते हैं, इसे आप Google AdSense के साथ Monetize कर सकते हैं।

लेकिन आपके मन में यह सवाल भी उठ सकता है कि ब्लॉगर पर Google Web Stories कैसे बनाये? और आप Google Web Stories से अपने ब्लॉग पर आर्गेनिक ट्रैफिक को कैसे प्राप्त कर सकते हैं, तो इसका सीधा सा जवाब है कि गूगल वेब स्टोरीज को गूगल न्यूज फीड के बीच में दिखाया जाता है, जिससे आर्गेनिक ट्रैफिक के बढ़ने की संभावना बढ़ जाती है और साथ ही ट्रैफिक बढ़ने से कमाई भी बढ़ जाती है।

Google Web Stories में किस तरह की Stories होती हैं, आप यह जानने के लिए जरूर उत्साहित होंगे हैं कि गूगल वेब स्टोरीज़ को कैसे बनाया जाता हैं। दोस्तों ब्लॉग्गिंग के लिए दो प्लेटफार्म सबसे अधिक इस्तेमाल होते है वर्डप्रेस और ब्लॉगर।

Google Web Stories

वर्डप्रेस पर वेब स्टोरीज़ को बनाना बहुत सरल है जहाँ आप Plugin का प्रयोग कर सकते है, लेकिन ब्लॉगर पर ऐसी कोई सुविधा नहीं है इसलिए जो लोग ब्लॉगर का उपयोग कर रहे हैं। वो चिंता न करें, आप हम इस आर्टिकल में आपको ब्लॉगर पर Google Web Stories कैसे बनाये? इसके बारे सभी स्टेप्स को डिफाइन करेंगे जिसे देख कर आप ब्लॉगर पर भी गूगल वेब स्टोरीज़ को बना सकते हैं।

गूगल वेब स्टोरीज़ क्या है? What is Google Web Stories in Hindi? 

ब्लॉगर पर Google Web Stories को कैसे बनाये, इससे पहले हमे Google Web Stories क्या है इसे समझना होगा चलिए जानते है वेब स्टोरीज़ क्या है?  

Google Web Stories गूगल पर AMP Technology के द्वारा संचालित होती हैं और मोबाइल डिवाइस पर एक Full-Screen Format के रूप में प्रदर्शित की जाती हैं। जहाँ कंटेंट को एक Tapeable Visual Slides की एक श्रृंखला के रूप में उपयोगकर्ताओं के सामने पेश किया जाता हैं।

गूगल वेब स्टोरीज़ इंस्टाग्राम, फेसबुक और अन्य प्लेटफॉर्म पर उपलब्ध स्टोरी फीचर्स के समान ही हैं; हालांकि, इसमें मुख्य अंतर यह है कि Google Web Stories आपको अपनी वेबसाइट पर इसे प्रकाशित करने की अनुमति देती हैं। आपका अपनी Web Stories पर पूर्ण रचनात्मक नियंत्रण होता है और इसमें आप अपने ब्रांड के लिए संदेश, वीडियो, इमेजेज टेक्स्ट का उपयोग कर सकते हैं।

आपकी वेबसाइट पर वेब स्टोरीज़ उपलब्ध होने के साथ-साथ, उपयोगकर्ता इन्हें Google Searches में, Google Discover के माध्यम से और Google Images Search पर भी खोज सकते हैं। दूसरे शब्दों में, Google Web Stories के साथ, आप अपने दर्शकों से बेहतर ढंग से Engage कर सकते हैं और SEO के उन सभी अवसरों का लाभ उठा सकते हैं जो सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर उपलब्ध नहीं हैं।

Google Web Stories क्या है इसे समझने के बाद, Google Web Stories के लाभ क्या है, ब्लॉगर पर Google Web Stories कैसे बनाये? इन्हें जानते है।

Google Web Stories के लाभ क्या है? 

गूगल वेब स्टोरीज़ अन्य सोशल प्लेटफ़ॉर्म पर स्टोरीज़ की तुलना में अलग तरह से काम करती हैं, और वे ऐसे लाभ प्रदान करती हैं जो अन्य नहीं कर सकते हैं। वेब स्टोरीज़ का उपयोग करना आपकी डिजिटल मार्केटिंग रणनीति के लिए सहायक हो सकता है।

1. यह सर्च इंजन रिजल्ट पेज (SERPs) पर आपकी रैंकिंग को बढ़ा सकता है

2. आपकी वेब स्टोरीज़ कहानियां सीधे सर्च रिजल्ट पर जाती हैं और पूरे वेब पर अधिकतम Eyeballs को आकर्षित करती हैं

3. यह आपको सर्वोत्तम एसईओ तकनीकों को उपयोग करने की अनुमति देता है

4. इसका कंटेंट आप आसानी से शेयर कर सकते है

5. इसकी लोडिंग स्पीड काफी तेज होती है

7. वेब स्टोरीज़ को Monetize किया जा सकता है

8. आप इसमें External Links को ऐड कर सकते है 

9. यह आपको Google Analytics को उपयोग करने की अनुमति देता है

10. आप अपनी ब्रांडिंग शैलियों को ऑप्टिमाइज़ कर सकते है 

12. Google Web Stories की कोई Expiry Date नहीं होती 

15. वेब स्टोरीज़ आपको Complete Ownership की अनुमति देती हैं

ब्लॉगर पर Google Web Stories कैसे बनाये? How to Make Google Web Stories for Blogger in Hindi?

ब्लॉगर पर Google Web Stories कैसे बनाये? इसके लिए, आपको Makestories.io वेबसाइट पर एक अकाउंट बनाना होगा। यह एक वेबसाइट है जिसका उपयोग वेब स्टोरीज़ को बनाने के लिए किया जाता है, और सबसे बड़ी बात यह है कि इसे Google के द्वारा रेकमेंड किया गया है।

1) Makestories.io वेबसाइट पर जाये और वेबसाइट के ऊपरी दाएं कोने से साइन अप बटन पर क्लिक करके एक अकाउंट बनाएं।

2) वेबसाइट में साइन-इन करने के बाद आपको Maketoires.io का डैशबोर्ड दिखाई देगा।

3) साइडबार से General Setting अनुभाग में जाएं और नीचे दी गई सेटिंग्स का पालन करें।

  • General SEO Settings 

Google Web Stories

जनरल एसईओ सेटिंग्स में, आपको Author Name, Author Type, Story Language और Publisher Name को दर्ज करने के लिए कहा जाएगा।

Author Name – इस विकल्प में अपना नाम या ब्लॉग का नाम दर्ज करें।

Story Language – इस बॉक्स में, वह भाषा दर्ज करें जिसमें आप स्टोरीज़ बनाने जा रहे हैं।

Author Type – Person या Organization में से किसी एक प्रकार को चुनें। यदि आप स्टोरी प्रकाशित करने वाले एकमात्र व्यक्ति हैं, तो एक Person चयन करें, यदि एक संगठन है तो Organization का चयन करें।

Publisher Name – इस खंड में भी आप अपना या अपने ब्लॉग का नाम दर्ज़ कर सकते हैं।

  • Branding 

Google Web Stories

ब्रांडिंग सेक्शन में आपको अपने ब्लॉग या वेबसाइट का विवरण और फ़ेविकॉन सबमिट करना होगा।

Brand Name – इस फील्ड में अपनी वेबसाइट या ब्लॉग का नाम लिखें।

Brand Logo – अपना ब्लॉग लोगो अपलोड करें।

Brand Favicon – अपनी वेबसाइट का फ़ेविकॉन अपलोड करें।

Industry – उस सेक्शन में आप अपनी इंडस्ट्री का चयन करें जिसमें आप आर्टिकल पोस्ट करते हैं या स्टोरीज़ पोस्ट करने जा रहे हैं। 

Color – अपने ब्लॉग का Brand Color चुनें।

  • Typography

Google Web Stories

यदि आप अपनी वेब स्टोरीज़ में एक अलग फ़ॉन्ट चाहते हैं, तो आप इसे अपनी इच्छानुसार बदल सकते हैं, लेकिन मेरा सुझाव है कि इस सेटिंग को न बदलें

  • Google Analytics

Google Web Stories

इस सेक्शन में आपको अपने गूगल एनालिटिक्स कोड को सबमिट करना होगा। आप  गूगल एनालिटिक्स में जाकर एडमिन पर क्लिक करे, फिर ट्रैकिंग इंफो पर क्लिक करके ट्रैकिंग आईडी को कॉपी करें और उसे इस सेक्शन में पेस्ट करें।

  • Social Media

Google Web Stories

इस सेक्शन में अपने सोशल मीडिया लिंक्स पेस्ट करें और फिर सेव डिटेल बटन पर क्लिक करें।

  • Advertising Setup

Google Web Stories

Monetization Type का चयन करें यदि आप Google AdSense का उपयोग करते हैं, तो अपना ca-pub और slot id को यहाँ पेस्ट करें। इन दोनों को आप अपने किसी भी AdSense Ad Code से प्राप्त कर सकते हैं।

  • Domain Setup 

इस SEO सेटिंग्स को करने के बाद अब सबसे महत्वपूर्ण है डोमेन नाम को ऐड करना इसके लिए आपको Domain पर क्लिक करना होगा।

Google Web Stories

Setup Domain Name में सबसे पहले आपको अपनी ब्लॉगर वेबसाइट का डोमेन नाम सबमिट करना होगा यहाँ यह ध्यान रखे की आपको डोमेन नाम साथ www या https नहीं लगाना है।

Google Web Storiesइसके बाद आपको Sub Domain और Reverse Proxy दो ऑप्शन दिखाई देंगे जिसमे आपको Sub Domain को सेलेक्ट करना है और वहाँ आपको web-stories को टाइप करना है, इसके बाद Proceed पर क्लिक करना है।

Google Web Stories

यहाँ आपका डोमेन नाम सफलतापूर्वक ऐड हो जायेगा और आपको DNS सेटिंग प्राप्त होगी जो आपको अपने डोमेन प्रोवाइडर अकाउंट में जाकर DNS Manage में CNAME को ऐड करना होगा और Record Name व् Record Value को सबमिट करना होगा। 

Google Web Stories

अगले चरण में आपको वापस डोमेन में आकर Get SSL Certificate करे तथा वेरीफाई पर क्लिक करें।

Google Web StoriesSSL Verified होने के बाद आपको साइट को वेरीफाई होने में थोड़ा समय लग सकता है लेकिन कभी कभी यह तुरंत भी वेरीफाई हो जाती है।

अब आपकी साइट वेरीफाई होने के बाद आप Google Web Stories को बनाकर अपने ब्लॉग या वेबसाइट पर हजारों में ट्रैफिक ला सकते है, उम्मीद है आप यह जान गये होंगे की ब्लॉगर पर Google Web Stories कैसे बनाये? वेब स्टोरीज़ में आप वीडियो, इमेजेज आदि ऐड करके इसे आकर्षक बना सकते है जो ट्रैफिक को लाने में मदद करता है।

अंत में  

हमनें इस लेख के माध्यम से आपको “ब्लॉगर पर Google Web Stories कैसे बनाये?” के बारें में सम्पूर्ण जानकारी देने प्रयास किया गया है, हमे पूरी उम्मीद है यह जानकारी आपके लिये काफी उपयोगी साबित होगी यदि इस आर्टिकल से सम्बन्धित आपके पास कोई सुझाव हो तो कमेंट बाक्स के माध्यम से आप उसे हम तक पंहुचा सकते है। आप इस जानकारी को अपने दोस्तों और सोशल मिडिया पर जरूर शेयर करे। आपका धन्यवाद!

जरूर पढ़े 

1 COMMENT