Cryptocurrency किसे कहते है, जाने 5 Best क्रिप्टोकरेंसी कौन सी है?

0
87
Cryptocurrency

Cryptocurrency किसे कहते है, यह कैसे काम करती है? यह सवाल कई लोगो के मन में होगा क्योकि आज cryptocurrency धीरे धीरे विश्व व्यापर में अपनी पकड़ को मजबूत करती जा रही है। जब से इंटरनेट का विकास वैश्विक चेतना के लिए आगे बढ़ा और इसके साथ ही यह समाज, अर्थव्यवस्थाओं और उद्योगो में विघटन का एक बड़ा हिस्सा बन गया।

विषय सूची

क्रिप्टोकरेंसी क्या है, क्रिप्टोकरेंसी का भविष्य क्या है?  

आज तभी से मौजूदा प्रथाओं को सस्ती, अधिक सटीक और कुशल प्रणालियों के निर्माण के साथ ही इसने भारी धन और मूल्य को भी पैदा किया है। आज के इस परिद्र्श्य में नवीनतम व्यवधान, blockchain, और इसके साथ, cryptocurrency का उदय हमे अगले चरण के रास्ते को साफ-साफ दिखाता है।

जो एक विकेन्द्रीकृत कंप्यूटर नेटवर्क प्रणाली को बनाकर, एक एन्क्रिप्टेड तरीके से मूल्य, अनुबंध, समझौते और लेनदेन को सक्षम बनाता है। इन्ही एन्क्रिप्टेड तरीको को समझने और जानने के लिए हमे cryptocurrency किसे कहते है यह जानना भी जरुरी हो गया है। 

आज हम तकनिकी प्रणाली को इस हद तक विकसित करने में सक्षम हो गये है, जहां हम मूल्य को निर्धारित करने वाले नेटवर्क को विकेन्द्रीकृत करके, किसी भी प्राधिकारी या संस्था पर इसकी निर्भरता को हटा सकते है, ताकि किसी भी होल्डिंग के मूल्य को कम, हटा या बदला जा सके।

आज इस blockchain कंप्यूटिंग तकनिकी के उदय के साथ ही जो पहली एक डिजिटल मुद्रा या cryptocurrency का निर्माण हुआ है वह बिटकॉइन है। Cryptocurrency क्या है इसके निर्माता कौन है इसके जवाब में यही कह सकते है की bitcoin एक पहली cryptocurrency है।

Cryptocurrency

क्रिप्टोकरेंसी के निर्माता सातोशी नाकामोतो हैं, जो उनका एक छद्म नाम है – वास्तव में यह कोई नहीं जानता कि वह कौन है? इसका निर्माता होने के अलावा, नाकामोटो के पास बाजार में इन्वेस्ट के लिए पर्याप्त बिटकॉइन है, जो इसके मूल्य को कम या ज्यादा करता है। 

क्रिप्टोकरेंसी किसे कहते है? What is Cryptocurrency in hindi 

Cryptocurrency किसे कहते है? इसे हम इस प्रकार समझ सकते है की cryptocurrency भी भुगतान का ही एक रूप है जिसे किसी उत्पाद और सेवाओं के लिए ऑनलाइन एक्सचेंज किया जा सकता है। कई कंपनियों लेनदेन और ऑनलाइन एक्सचेंज के लिये अपनी खुद की मुद्राएं भी जारी कर रही हैं।

जिन्हें अक्सर टोकन कहा जाता है, और इनका प्रयोग विशेष रूप से अच्छी सेवाओ और कारोबार के लिये किया जाता है। जहां आपको उस कंपनी की अच्छी सेवाओ तक पहुंचने के लिए वास्तविक मुद्रा का आदान-प्रदान cryptocurrency के रूप में करना होता है।

ब्लॉकचैन क्या है? What is Blockchain? 

Blockchain क्या है? cryptocurrency एक blockchain नामक तकनीकी के द्वारा काम करती है। Blockchain एक विकेंद्रीकृत तकनीक होती है जो कई कंप्यूटरों द्वारा संचालित होती है जो सभी प्रकार के लेनदेन और प्रबंधन के रिकॉर्ड को रखती है। इस तकनीकी के इस्तेमाल का एक कारण इसकी सुरक्षा है।

मुख्य बिंदु 

Cryptocurrency blockchain नेटवर्क पर आधारित एक डिजिटल संपत्ति का रूप होती है जो बड़ी संख्या में कंप्यूटरों के द्वारा वितरित किया जाता है। इसकी यह विकेंद्रीकृत संरचना इसे सरकारों और केंद्रीय अधिकारियों के नियंत्रण से बाहर मौजूद होने की अनुमति देती है।

“Cryptocurrency” एन्क्रिप्शन तकनीक में इस्तेमाल होने वाला एक शब्द है जो इसके नेटवर्क को सुरक्षित करने के लिए प्रयोग किया जाता है।

Blockchain, जो कि लेनदेन डेटा की अखंडता को सुनिश्चित करने के लिए संगठनात्मक तरीका हैं, वह कई प्रकार की cryptocurrency के लिये एक अनिवार्य घटक है।

Cryptocurrency

कई विशेषज्ञों का यह मानना है कि यह blockchain और इससे संबंधित प्रौद्योगिकी वित्त और कानून सहित कई प्रक्रियाएं उद्योगों को बाधित करेगी।

Cryptocurrency को कई प्रकार से आलोचना का सामना करना पड़ रहा है, जिसमें गैरकानूनी गतिविधियों में इसका प्रयोग, विनिमय दर निर्धारण में इसकी अस्थिरता और अंतर्निहित बुनियादी ढांचे में इसकी कमजोरियाँ भी शामिल हैं।

हालांकि, इसके विपरीत उनकी पोर्टेबिलिटी, विभाजन, मुद्रास्फीति प्रतिरोध और पारदर्शिता के लिए भी इसकी प्रशंसा की गई है।

क्रिप्टोकरेंसी कितने प्रकार की होती है? How many types of cryptocurrency are there?

आज मार्किट में कई प्रकार की cryptocurrency बाजार में आ चुकी है, लेकिन इनमे से कुछ चुनी हुई ऐसी करेंसी है जो आज मार्किट में बहुत अच्छा परफॉर्म कर रही है और उनकी विश्वसनीयता भी हैं, और जो आज के समय में बहुत लोकप्रिय भी हैं।

यहाँ कुछ ऐसी ही क्रिप्टोकरेंसी के बारे में बताया गया है।

  1. बिटकॉइन
  2. लाइटकॉइन
  3. पीरकोइन
  4. एथेरियम
  5. डॉगकॉइन

बिटकॉइन क्या है? What is bitcoin?

Bitcoin मार्किट में आने वाली सबसे पहली cryptocurrency है, जिसे 2009 में संतोषी नाकामोटो नाम के व्यक्ति ने डेवलॅप किया था। यह एक विकेन्द्रीकृत करेंसी है जिसका उपयोग आप ऑनलाइन कर सकते हैं, इसकी सबसे बड़ी बात यह है की किसी भी देश की सरकार का bitcoin पर कोई नियंत्रण नहीं है।

लिटकोइन क्या है? What is Litecoin?

Litecoin भी एक प्रकार की cryptocurrency है, जो bitcoin की तरह एक decentralized cryptocurrency है, जिसे भी किसी भी देश की सरकार द्वारा नियंत्रित नहीं किया जाता है। इसे 2011 में चार्ली ली नाम के शख्स ने बनाया था, जो गूगल का कर्मचारी था।

उन्होंने bitcoin को सफल बनाने में भी योगदान दिया था, जिसके बाद उन्होंने लाइट कॉइन को डेवलॅप किया, bitcoin की तुलना में litecoin तेजी से काम करता है और यही कारण है कि litecoin भी bitcoin की तरह लोगों के बीच बहुत लोकप्रिय है।

पीरकोइन क्या है? What is Peercoin?

Peercoin भी एक decentralized cryptocurrency है, यह भी किसी सरकार द्वारा नियंत्रित नहीं है और peercoin बिल्कुल bitcoin की तरह ही काम करती है और इसमें जिस तकनीक का इस्तेमाल किया गया है वह भी cryptocurrency के समान ही है।

इस कारण से इसके लेन-देन का एन्क्रिप्शन भी bitcoin के समान है और यही कारण है कि लोग Peercoin के साथ-साथ Bitcoin को भी पसंद करते हैं।

Cryptocurrency

एथेरियम क्या है? What is Ethereum?

Ethereum को bitcoin के बाद सबसे लोकप्रिय cryptocurrency में से एक है। यह cryptocurrency एक decentralized blockchain की तकनीक पर काम करती है।

Bitcoin के बाद ethereum cryptocurrency इतनी मशहूर हो गई है कि आज के समय में लोग bitcoin से ज्यादा ethereum करेंसी का इस्तेमाल करना पसंद करते हैं।

डॉगीकॉइन क्या है? What is Dogecoin?

Dogecoin के cryptocurrency बनने के पीछे एक बहुत ही दिलचस्प कहानी है। जिस समय cryptocurrency की दुनिया में bitcoin सबसे ज्यादा मशहूर थी, उस समय कैट मार्कस नाम के शख्स ने dogecoin नाम की करेंसी बनाई।

उसका मकसद पहले बिटकॉइन का मजाक बनाना था, लेकिन dogecoin की लोकप्रियता को देखते हुए dogecoin को भी एक cryptocurrency बना दिया गया जो litecoin की तरह ही encryption technology का इस्तेमाल करती है और आज के समय में dogecoin को भी bitcoin की तरह इस्तेमाल किया जाता है।

डिजिटल करेंसी क्या है, यह क्रप्टोकरेंसी से कैसे अलग है? What is digital currency, how is it different from cryptocurrency? 

Digital Currency क्या है? Digital Currency मूल रूप से digital या virtual currency होती है, जो सेंट्रल बैंक द्वारा टेंडर के रूप में जारी की जाती है। यह मौजूदा digital और fiat currencies के समान ही काम करती है।

इसमें सबसे महत्वपूर्ण बात यह है कि यह कानूनी रूप से मान्यता प्राप्त करेंसी है। digital currency को उस देश की सरकार द्वारा मान्यता प्राप्त होती है, जहाँ इसे उस देश के किसी केंद्रीय बैंक द्वारा इसे जारी किया जाता है।
 
संपर्क रहित भुगतान करने के लिए digital currency का उपयोग किया जाता है। उदाहरण के लिए, जब आप अपने बैंक खाते से किसी मित्र के खाते में पैसे को ट्रांसफर कर रहे हों या अपने फ़ोन पर किसी फंड ट्रांसफर ऐप का उपयोग कर रहे हों। अगर आप इस पैसे को एटीएम से निकालते हैं, तो यह कैश में बदल जाता है।
 
वहीं, bitcoin जैसी cryptocurrency का कोई भौतिक रूप नहीं होता है। आप इस मुद्रा को छू नहीं सकते। यह decentralized है जो सरकार के नियंत्रण में नहीं है। cryptocurrency को डिजिटल वॉलेट में रखा जाता है। cryptocurrency की तरह digital currency की वैल्यू में उतार-चढ़ाव नहीं होता है।

Cryptocurrency

भारत की क्रिप्टोकरेंसी कौन सी है? Which is the cryptocurrency of India? 

भारत की cryptocurrency कौन सी है? तीन भारतीयों द्वारा मिलकर बनाई गई भारत की cryptocurrency पॉलीगॉन (polygon) है जिसने मार्केट कैप के लिहाज जो अब 10 अरब डॉलर को पार कर गई है। इस समय polygon का मार्केट केपिटलाइजेशन 13 अरब डॉलर पर पहुंच गया है।

दुनियाँ भर की सभी cryptocurrency पर अपनी नजर रखने वाली संस्था COINMARKETCAP.COM के अनुसार आज polygon ने दुनिया की शीर्ष 20 cryptocurrency की सूची में अपनी जगह बना ली है।

दुनिया भर में इन दिनों cryptocurrency में निवेश करने में लोगों की रुचि बढ़ रही है, हालांकि कई कारणों से cryptocurrency के भाव में काफी उतार-चढ़ाव देखने को मिल रहा है। 
 
सबसे पहले polygon को मैटिक नेटवर्क के नाम से डेवलॅप किया गया था, जिसका मार्केट कैप अब 10 गुना से अधिक बढ़ चुका है। आज इसका प्रयोग गेमिंग प्लेयर्स, नॉन फंजिबल टोकंस और डिसेंट्रलाइज्ड फाइनेंस में तेजी से हो रहा है।

अब नैस्डेक (Nasdac) ने भी अपने लिस्टेड कॉइनबेस यूजर को पॉलीगॉन कॉइन में ट्रेड करने की इजाजत दे दी है।

क्रिप्टोकरेंसी के फायदे क्या है? What are the advantages of cryptocurrency? 

Cryptocurrency एक प्रकार की बैंकिंग या क्रेडिट कार्ड कंपनी जैसी विश्वसनीय वयवस्था है जो किसी तीसरे पक्ष की आवश्यकता के बिना, सीधे दो दलों के बीच फंड को ट्रांसफर करना आसान बनाती है।

इन सभी ट्रांस्फ़रो को सार्वजनिक और निजी कुंजी प्रोत्साहन प्रणालियों के विभिन्न रूपों के द्वारा सुरक्षित किया जाता है, जैसे प्रूफ ऑफ़ वर्क या प्रूफ ऑफ़ स्टेक।

आधुनिक cryptocurrency सिस्टम में, एक उपयोगकर्ता के “वॉलेट,” या खाते के पते में एक सार्वजनिक कुंजी होती है, जबकि निजी कुंजी केवल स्वामी के लिए जानी जाती है और लेनदेन पर हस्ताक्षर करने के लिए उपयोग की जाती है।

फंड ट्रांसफर न्यूनतम प्रोसेसिंग फीस के साथ पूरा होता है, जिससे उपयोगकर्ता वायर ट्रांसफर के लिए बैंकों और वित्तीय संस्थानों द्वारा वसूले जाने वाले शुल्क से आसानी से बच सकते हैं।

क्रिप्टोकरेंसी के नुकसान क्या है? What are the disadvantages of cryptocurrency?

Cryptocurrency लेनदेन की अर्ध-अनाम प्रकृति उन्हें अवैध गतिविधियों की मेजबानी के लिए अच्छी तरह से अनुकूल बनाती है, जैसे कि धन शोधन और कर चोरी। हालांकि, cryptocurrency अक्सर गोपनीयता का लाभ उठाने का समर्थन करती है।

जो गोपनीयता के लाभ का हवाला देते हैं जैसे कि व्हिसलब्लोअर या दमनकारी सरकारों के तहत रहने वाले कार्यकर्ताओं के लिए सुरक्षा। कुछ cryptocurrency दूसरों की तुलना में अधिक निजी होती हैं।

उदाहरण के लिए, bitcoin अवैध व्यापार को संचालित करने के लिए अपेक्षाकृत सबसे खराब विकल्प है, क्योंकि bitcoin blockchain के फोरेंसिक विश्लेषण ने अधिकारियों को अपराधियों को गिरफ्तार करने और उन पर मुकदमा चलाने में मदद की है।

हलाकि अधिक गोपनीयता उन्मुख वाले सिक्के भी मौजूद हैं, जैसे डैश, मोनेरो या ZCash, जिन्हें ट्रेस करना अधिक कठिन होता है।

Cryptocurrency

Cryptocurrency कितनी सुरक्षित है? How Secure is Cryptocurrency?

Cryptocurrency आमतौर पर blockchain technology का उपयोग करके बनाई जाती है। Blockchain लेनदेन का अर्थ “ब्लॉक” और समय पर मुहर लगाना है। यह एक काफी जटिल और तकनीकी प्रक्रिया है।

Cryptocurrency लेनदेन एक डिजिटल प्रक्रिया है जिसके साथ छेड़छाड़ करना हैकर्स के लिये बहुत मुश्किल होता है। इसके अलावा, इसमें लेनदेन के लिए दो-कारक प्रमाणीकरण प्रक्रिया की आवश्यकता होती है।

उदाहरण के लिए, लेन-देन को शुरू करने के लिए इसमें उपयोगकर्ता का नाम और पासवर्ड दर्ज करने के लिए कहा जाता है। फिर, आपको एक प्रमाणीकरण कोड दर्ज करना होता है, जो आपके व्यक्तिगत सेल फोन पर भेजा जाता है।

जहा तक इसकी सुरक्षा का सम्बन्ध हैं, इसका मतलब यह नहीं है कि cryptocurrency को हैक नहीं किया जा सकता हैं। इन्वेस्टोपेडिया के अनुसार, हैकर्स ने 2018 में $ 534 मिलियन के लिए कॉइनचेक और $ 195 मिलियन के ब्रिटग्रिल को हैक किया था। जो इन्वेस्टोपेडिया के अनुसार, 2018 की सबसे बड़ी cryptocurrency हैकिंग थी।

क्रिप्टोकरेंसी का भविष्य क्या हैं? What is the future of cryptocurrencies?

Cryptocurrency का भविष्य क्या हैं? आज यह एक महत्वपूर्ण सवाल है, क्योकि कई कारणों से cryptocurrency सबसे लोकप्रिय हैं, यहाँ कुछ कारण दिये गये है:

कुछ विश्लेषक bitcoin जैसी cryptocurrency को भविष्य की मुद्रा के रूप में देखते हैं और इसे खरीदने के लिए प्रयासरत रहते हैं, ताकि इससे पहले कि यह और अधिक मूल्यवान हों जाये।

कुछ समर्थक इसे लेकर यह तथ्य पेश करते हैं कि cryptocurrency एक दिन केंद्रीय बैंकों की वयवस्था को भी प्रतिबंधित कर देगी जो धन की आपूर्ति को व्यवस्थित करती है, क्योंकि समय के साथ ये बैंक मुद्रास्फीति के द्वारा धन के मूल्य को नियंत्रित करते हैं।

कुछ अन्य समर्थक cryptocurrency के पीछे की इस तकनीक को पसंद करते हैं, जैसे blockchain, क्योंकि यह एक विकेन्द्रीकृत प्रसंस्करण और रिकॉर्डिंग प्रणाली है और पारंपरिक भुगतान प्रणालियों की तुलना में अधिक सुरक्षित हो सकती है।

कुछ सट्टेबाजों को cryptocurrency इसलिये पसंद है क्योंकि यह मूल्य में ऊपर जा रही हैं और पैसे को स्थानांतरित करने के तरीके के रूप में इन मुद्राओं पर दीर्घकालिक स्वीकृति में कोई कर नहीं लगता है।

क्रिप्टोकरेंसी को कैसे खरीदे? How to buy cryptocurrency?

Cryptocurrency खरीदने के लिए, आपको एक “वॉलेट” की आवश्यकता होती है, जो एक ऑनलाइन ऐप होता है। आम तौर पर, आप एक एक्सचेंज पर जाकर एक खाता बनाते हैं, और फिर आप इससे bitcoin या ethereum जैसी cryptocurrency को खरीदने के लिए वास्तविक पैसा स्थानांतरित कर सकते हैं। 

कॉइनबेस एक लोकप्रिय cryptocurrency trading exchange है जहां पर आप ट्रेडिंग के लिये एक वॉलेट बना सकते हैं और bitcoin तथा अन्य दूसरी cryptocurrency को खरीद और बेच सकते हैं।

इसके अलावा, ऑनलाइन ब्रोकरों की बढ़ती संख्या eToro, Tradestation और Sofi Active Investing जैसी ट्रेडिंग क्रिप्टोकरेंसी की सेवाओं को प्रदान करती है।

क्या क्रिप्टोकरेंसी कानूनी हैं? Are cryptocurrencies legal?

इस बात का कोई प्रश्न नहीं है क्योकि यह कई देशो में कानूनी हैं, हालांकि कुछ देशो में अनिवार्य रूप से इसके उपयोग पर प्रतिबंध लगा दिया है, और अंततः यह प्रत्येक व्यक्तिगत देश पर निर्भर करता है। इसलिये निवेशकों को क्रिप्टोकरेंसी को एक अवसर के रूप में देखने तथा धोखेबाजों से खुद को बचाने के लिऐ सावधान रहना चाहिये।

क्रिप्टोकरेंसी खरीदते वक्त क्या सावधानी रखे? What are the precautions to be taken while buying cryptocurrency?

यदि आप ICO में एक क्रिप्टोकरेंसी को खरीदना चाहते हैं, तो इसकी जानकारी के लिए कंपनी के प्रॉस्पेक्टस को सही से पढ़ें, कंपनी का मालिक कौन है? एक पहचान योग्य और प्रसिद्ध मालिक का होना एक सकारात्मक संकेत होता है।

क्या अन्य कोई प्रमुख निवेशक हैं जो इसमें निवेश कर रहे हैं? यदि हा तो यह एक अच्छा संकेत है। इसके अलावा यह भी देखने की आवश्यकता है की क्या आपके पास कंपनी या मुद्रा या टोकन में कोई हिस्सेदारी होगी? इसकी जानकारी होना बहुत महत्वपूर्ण है।

एक हिस्सेदारी होने का मतलब है कि आपका कमाई में हिस्सा होना (आप एक मालिक हैं), जबकि टोकन खरीदने का मतलब है कि आप उनका उपयोग करने के हकदार हैं, जैसे कि कैसीनो में चिप्स होते है।

यह भी देखे की क्या वह मुद्रा पहले से विकसित है, या कंपनी इसे विकसित करने के लिए धन जुटाना चाह रही है? इस जानकारी से आप जोखिम को भाप सकते है।

ऑनलाइन ब्रोकर जो क्रिप्टोकरेंसी ऑफर करते है Online Brokers That Offer Cryptocurrencies 

कॉइनबेस: 30 से अधिक क्रिप्टोकरेंसी खरीदने और बेचने के लिए एक्सेस देते है।

ईटोरो: 15 क्रिप्टोकरेंसी के उपयोग के साथ ट्रेडिंग प्लेटफॉर्म देते है।

रॉबिन हुड: bitcoin, बिटकॉइन कैश और एथेरियम सहित सात क्रिप्टोकरेंसी।

SoFi सक्रिय निवेश: ट्रेडिंग के लिए तीन क्रिप्टोकरेंसी प्रदान करता है: bitcoin, ethereum और litecoin।

ट्रेडस्टेशन: bitcoin, बिटकॉइन कैश और ethereum सहित पांच क्रिप्टोकरेंसी के लिए ट्रेडिंग प्रदान करता है।

वेबल: ट्रेडिंग के लिए चार क्रिप्टोकरेंसी प्रदान करता है: bitcoin, बिटकॉइन कैश, ethereum और litecoin।

अंत में  

हमनें इस लेख के माध्यम से आपको “क्रिप्टोकरेंसी किसे कहते है यह कैसे काम करती है?” के बारें में सम्पूर्ण जानकारी देने प्रयास किया गया है, हमे पूरी उम्मीद है यह जानकारी आपके लिये काफी उपयोगी साबित होग।

यदि इस आर्टिकल से सम्बन्धित आपके पास कोई सुझाव हो तो कमेंट बाक्स के माध्यम से आप उसे हम तक पंहुचा सकते है। आप इस जानकारी को अपने दोस्तों और सोशल मिडिया पर जरूर शेयर करे। आपका धन्यवाद!

आप हमारे इन आर्टिकल्स को भी देख सकते है 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here