म्यूचुअल फंड सही है या गलत फॉर इनवेस्टमेंट – कैसे जानें?

0
40
म्यूचुअल फंड सही है या गलत

यदि आप म्यूचुअल फंड में अपने निवेश को लेकर चिंतित हैं? और आप अभी भी यह सोच रहे हैं कि म्यूचुअल फंड सही है या गलत या कौन सा म्यूचुअल फंड सही है? वास्तव में, यह सब म्यूचुअल फंड के बारे में हमारी सामान्य समझ की कमी के कारण हैं, लेकिन क्या हम म्यूचुअल फंड को निवेश विकल्प के रूप में सही समझते है या गलत? इस पर चर्चा की जा सकती है।

म्यूचुअल फंड सही है?

परंपरागत रूप से, हम भारतीय ऐसे निवेश चुनते हैं जो पूंजी की सुरक्षा की गारंटी देते हैं और हमें सुनिश्चित रिटर्न प्रदान करते हैं। भारत में एफडी और आरडी की बढ़ती लोकप्रियता के पीछे यह एक महत्वपूर्ण कारण है।

जिसके लिए आप बैंकों और डाकघरों में एफडी और आरडी में निवेश कर सकते हैं, जो निवेश करने के लिए सबसे सुरक्षित जगहों में से एक माने जाते हैं। लेकिन म्यूचुअल फंडों को अभी तक उस तरह का भरोसा हासिल नहीं हुआ है।

म्यूचुअल फंड सही है या गलत – कैसे जानें?

म्यूचुअल फंड सही है या गलत, इस विषय पर कई लोगों का मानना है कि म्यूचुअल फंड से लोगों को नुकसान भी हो सकता है, क्योंकि रिटर्न की गारंटी नहीं होने से वे अपना पैसा गंवा सकते हैं। इसके अलावा, यह चेतावनी कि म्यूचुअल फंड बाजार के जोखिम के अधीन है, लोगों के दिमाग में एक शंका पैदा करता है।

म्यूचुअल फंड सही है या गलत, इसका जवाब यही है कि म्यूचुअल फंड को बैंक एफडी की तरह सुरक्षित निवेश विकल्प नहीं माना जाता है। हालांकि, यह पूरी तरह से सच नहीं है क्योंकि अगर आप अपने वित्तीय लक्ष्यों और जोखिम प्रोफाइल के आधार पर निवेश विकल्पों को समझते हैं, तो निवेश विकल्प के रूप में म्यूचुअल फंड सही है और यह आपको मुद्रास्फीति को मात देने वाले रिटर्न दे सकते हैं।

म्यूचुअल फंड सही है या गलत

कौन सा म्यूचुअल फंड सही है? – कैसे जानें।

कौन सा म्यूचुअल फंड सही है, इसके लिए आप दो तरह से अपने निवेश की सुरक्षा का पता लगा सकते हैं:

  1. कंपनी या संस्थान के संदर्भ में जानकारी प्राप्त करना, जहां आप अपना पैसे का निवेश करने जा रहे है।
  2. पूंजी निवेश और निश्चित रिटर्न के संदर्भ में सुरक्षा की जांच करना।

कोई भी निवेश 100% रिस्क-फ्री नहीं होता है, इसलिए विभिन्न म्यूचुअल फंड हाउसों में आपको निवेश करने से पहले निम्नलिखित बाते जानना आवश्यक है:

कोई आपका पैसा लेकर नहीं भागेगा

यदि आप ऐसा सोचते है कि म्यूचुअल फंड एक प्रकार की फ्लाइट-बाय-नाइट योजना है, तो आप निश्चिंत रहें कि म्यूचुअल फंड पूरी तरह से सुरक्षित हैं। ऐसा बिलकुल नहीं होगा की एक सुबह आप उठें और सुचना मिली की आपके द्वारा निवेश किया गया म्यूचुअल फंड आपके पैसे के साथ गायब हो गया है। ऐसा कभी होने वाला नहीं है।  

हम ऐसा क्यों कह रहे है की म्यूचुअल फंड सही है या गलत क्योंकि भारत में सभी म्यूचुअल फंड कंपनियां भारतीय प्रतिभूति और विनिमय बोर्ड (SEBI) और एसोसिएशन ऑफ म्यूचुअल फंड्स इन इंडिया (AMFI) जैसी नियामक एजेंसियों द्वारा विनियमित और पर्यवेक्षण की जाती हैं, इसलिए कोई भी म्यूचुअल फंड हाउस निवेशक आपके पैसे लेकर फरार नहीं हो सकता है।

म्यूचुअल फंड हाउस चलाने का लाइसेंस ठीक उसी तरह से दिया जाता है जैसे बैंकों को बैंकिंग लाइसेंस मिलता है। संक्षेप में कहे तो, एक म्यूचुअल फंड हाउस एक बैंक की तरह ही सुरक्षित होता है।

म्यूचुअल फंड निवेश हाई रिटर्न और टैक्स बेनिफिट के लिए होते हैं

कोई भी म्यूचुअल फंड पूंजी सुरक्षा या निश्चित रिटर्न की गारंटी नहीं देता हैं। हालाँकि, यह एक अच्छी बात है क्योंकि अगर म्यूचुअल फंड ऐसा करते हैं तो यह एक खराब निवेश उत्पाद होगा।

म्यूचुअल फंड में निवेश का उद्देश्य पारंपरिक निवेश विकल्पों की तुलना में अधिक रिटर्न को अर्जित करना है। क्योकि हाई रिटर्न मुख्यत अधिक व्यापक बाजार जोखिम और म्यूचुअल फंड के पेशेवर प्रबंधन का ही परिणाम होता हैं।

म्यूचुअल फंड भी पारंपरिक निवेश की तुलना में अधिक कर-लाभ देता हैं। इसके अलावा, कर-बेनिफिट रिटर्न के साथ-साथ महंगाई को मात देने के दोहरे लाभ म्यूचुअल फंड को अनुभवी निवेशकों के लिए एक उत्तम निवेश का विकल्प बनाते हैं।

म्यूचुअल फंडों से कम अवधि के साथ-साथ दीर्घकालिक लाभ पर इस तरह से टैक्स लगाया जाता है जिससे आपके रिटर्न पर कोई प्रभाव नहीं पड़े। म्यूचुअल फंड लंबी अवधि के निवेश के रूप में अधिक मायने रखते हैं क्योंकि आप जितने लंबे समय तक निवेशित रहेंगे, आपको उतना ही अधिक रिटर्न मिलेगा।

कौन सा म्यूचुअल फंड सही है? आप यह जान लीजिये की म्यूचुअल फंड आपको रिटर्न के बदले में अधिक रिटर्न देते है और यह सब कंपाउंडिंग बेनिफिट की शक्ति के कारण होता हैं। अगर आप लंबी अवधि के लिए निवेश करते है तो म्यूचुअल फंड से बेहतर रिटर्न ले सकते है, जो आपके पारंपरिक निवेश को पीछे छोड़ देगा।

म्यूचुअल फंड सही है या गलत

म्यूचुअल फंड निवेश के साथ आने वाले जोखिम को आपके निवेश में विविधता लाकर और वित्तीय लक्ष्यों, समय सीमा और जोखिम सहनशीलता के आधार पर निवेश करके उसे प्रबंधित किया जाता है।

कौन सा म्यूचुअल फंड सही है? – उसके विकल्प।

आमतौर पर, एसआईपी या व्यवस्थित निवेश योजना ही म्यूचुअल फंड में पैसा निवेश करने का एक सबसे अच्छा तरीका है। कौन सा म्यूचुअल फंड सही है उसके लिए यहाँ पर हम निवेश करने के लिए शीर्ष 11 एसआईपी म्यूचुअल फंड की एक सूची प्रदान कर रहे है लेकिन आप निवेश करने से पहले इनके विषय में जानकारी जरूर प्राप्त करें।

  1. ICICI Prudential Technology Fund
  2. TATA Digital India Fund
  3. SBI Technology Opportunities Fund
  4. Aditya Birla Sun Life Digital India Fund
  5. Principal Emerging Bluechip Fund
  6. Sundaram Select Focus Fund
  7. Franklin India Technology Fund
  8. PGIM India Midcap Opportunities Fund
  9. Nippon India Pharma Fund
  10. ICICI Prudential US Blue-chip Equity Fund
  11. IIFL Focused Equity Fund Growth

F & Q About म्यूचुअल फंड सही है या गलत 

Q:- क्या म्यूचुअल फंड में पैसा डूब सकता है?

A:- हाँ ऐसा हो सकता है, यदि म्यूचुअल फंड में शॉर्ट टर्म के लिए निवेश किया गया है तो आपको नुकसान हो सकता है। इसलिए 5 साल से अधिक निवेश अवधि के लिए म्यूचुअल फंड में निवेश करे तो नुकसान होने की संभावनाएं लगभग समाप्त हो जाती है।

Q:- म्यूचुअल फंड में क्या रिस्क होता है?

A:- म्यूचुअल फंड में सबसे ज्यादा रिटर्न इक्विटी से जुड़ी स्कीम में मिलता है, इसलिए म्यूचुअल फंड के लिए सबसे बड़ा रिस्क खुद शेयर बाजार ही है। हालांकि जोखिम इस बात से तय होता है कि आपने किस तरह के शेयरों का चुनाव किया है। यदि आप लार्जकैप या ब्लूचिप फंड्स में अपना पैसा लगा रहें हैं तो आपके लिए जोखिम कम होगा।

Q:- क्या म्यूचुअल फंड में जोखिम होता है?

A:- इस मामले में फाइनेंशियल एक्‍सपर्ट मानते हैं कि म्यूचुअल फंड जोखिमभरा होता है क्‍योंकि इसमें रिटर्न शेयर बाजार के उतार-चढ़ाव पर निर्भर करता है।

Q:- म्यूचुअल फंड नुकसान क्या है?

A:- म्यूचुअल फंड अस्थिर होते हैं, यही इनका सबसे बड़ा नुकसान है इसलिए आपको केवल कुछ सिलेक्टेड शेयरों में ही इंवेस्ट करना चाहिए। तभी आपका टार्गेट सफल हो सकता है लेकिन इसमें हाई रिटर्न के साथ-साथ ज्यादा रिस्क की भी संभावना है।

Q:- म्यूचुअल फंड में पैसा कब लगाना चाहिए?

A:- बाजार के जानकार मानते हैं कि म्यूचुअल फंड्स में इंश्योरेंस की तरह ही जल्दी निवेश शुरु कर देना चाहिए, ताकि आप उम्र की एक सीमा पर अच्छा रिटर्न ले सके।

Q:- मुझे म्यूचुअल फंड में कितना पैसा लगाना चाहिए?

A:- म्यूचुअल फंड में न्यूनतम निवेश 500 रुपये मासिक से शुरू कर सकते हैं। जिसे आप कभी भी बढ़ा सकते हैं।

Q:- म्यूचुअल फंड में कितने साल निवेश कर सकते हैं?

A:- म्यूचुअल फंड में कम से कम तीन साल के लिए निवेश करें, यदि आप 8 और 10 साल तक म्यूचुअल फंड में निवेश करते है तो आपको क्रमश: 14.1% और 14.2% की औसत दर से रिटर्न मिल सकता है।

Q:- भारत का सबसे बड़ा म्यूचुअल फंड कौन सा है?

A:- यूनिट ट्रस्ट ऑफ इंडिया (यूटीआई) भारत का सबसे बड़ा म्यूचुअल फंड संगठन है। जिसकी स्थापना 1963 में हुई थी, इसकी निगरानी SEBI करता है।

Q:- म्यूचुअल फंड कैसे खरीदें?

A:- म्यूचुअल फंड आप ऑनलाइन या इसके ब्रांच ऑफिस/नामित इन्वेस्टर सर्विस सेंटर (ISC) के द्वारा आवेदन फॉर्म को जमा करके म्यूचुअल फंड में निवेश कर सकते है।

अंत में निष्कर्ष

यदि आप निवेश को समझते हैं तो म्यूचुअल फंड सही है और यह एक सुरक्षित निवेश हैं। निवेशकों को कभी भी इक्विटी फंड में निवेश करते समय रिटर्न में आ रहे शॉर्ट-टर्म उतार-चढ़ाव के बारे में चिंतित नहीं होना चाहिए। इसके लिए आपको सही म्यूचुअल फंड चुनना चाहिए, जो आपके निवेश लक्ष्यों के अनुरूप हो और लंबी अवधि में आपको अच्छा रिटर्न प्रदान करें।

इससे पहले कि म्यूचुअल फंड सही है या गलत जाने बिना निवेश ना करें, आपको सलाह दी जाती है कि आप पहले अपना शोध करें और कौन सा म्यूचुअल फंड सही है उसके बारे में अधिक पढ़ें। क्योकि आज बाजार में विभिन्न प्रकार के निवेशकों के लिए कई प्रकार के म्यूचुअल फंड हैं जैसे इक्विटी फंड, डेट फंड्स और हाइब्रिड फंड इत्यादि।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here