पूरी रात सपने क्यों आते हैं, जाने इसका वैज्ञानिक कारण क्या है?

0
49
पूरी रात सपने क्यों आते हैं

सपने कभी मनोरंजक कभी परेशान करने वाले और कभी बड़े विचित्र होते हैं। लेकिन सवाल यह है की पूरी रात सपने क्यों आते हैं? भले ही हम उन्हें अगले दिन याद न रख पाये। फिर भी हमें सपने क्यों आते हैं? और उनका क्या मतलब होता है?

सपने मूल रूप से ऐसी कहानियां और चित्र होते हैं जो हमारा दिमाग में सोते समय बनते है। वे सजीव भी हो सकते है और कभी-कभी वे आपको खुश, उदास या डरा हुआ महसूस करा सकते हैं। और हमे यह लगता है की डरावने सपने क्यों आते हैं, जो पूरी तरह से भ्रामक या तर्कसंगत नहीं लगते हैं।

नींद के दौरान सपने कभी भी आ सकते हैं, कभी-कभी आप देखेंगे दोपहर में सपने क्यों आते हैं? लेकिन आपको सबसे अजीब सपने REM (रैपिड आई मूवमेंट) नींद के दौरान आते हैं, क्योकि उस समय आपका मस्तिष्क सबसे अधिक सक्रिय होता है। कुछ विशेषज्ञ कहते हैं कि हम रात में कम से कम चार से छह बार सपने देखते हैं।

पूरी रात सपने क्यों आते हैं?

पूरी रात सपने क्यों आते हैं, इसके बारे में कई सिद्धांत हैं, लेकिन कोई भी निश्चित रूप से नहीं जानता। कुछ शोधकर्ताओं का ऐसा कहना है कि सपनों का कोई उद्देश्य या अर्थ नहीं होता है। जबकि दूसरे कहते हैं कि हमें अपने मानसिक, भावनात्मक और शारीरिक स्वास्थ्य के लिए सपनों की ज़रूरत है। तो सपने क्यों आते हैं? क्या यह इसका जवाब हो सकता है।

जैसे-जैसे विज्ञानं मानव शरीर को समझने का प्रयास कर रहा है वैसे ही पूरी रात सपने क्यों आते हैं इस पर हुऐ अध्ययनों ने हमारे स्वास्थ्य और कल्याण के लिए सपनों के महत्व पर ध्यान दिया है। सपने क्यों आते हैं इस पर अध्ययन करते हुऐ एक शोधकर्ताओं ने REM (रैपिड आई मूवमेंट) नींद की स्थिति में पहुंच रहे कुछ लोगों पर शोध किया। जिसमे उन्होंने पाया कि जिन्हें नींद में सपने नहीं आते ऐसे लोग अक्सर किसी ना किसी समस्या से जूझ रहे होते है, जैसे:

  • अधिक मानसिक तनाव
  • किसी प्रकार की चिंता
  • अवसाद की समस्या 
  • कठिन समय पर ध्यान केंद्रित करना
  • तालमेल की कमी
  • वजन बढ़ना
  • मतिभ्रम की प्रवृत्ति

पूरी रात सपने क्यों आते हैं, इस पर कई विशेषज्ञों का रुख बड़ा स्पष्ट है उनका कहना है कि सपने आने से हमे क्या फायदा होता हैं:

  • जीवन में समस्याओं को हल करने में मदद मिलती है
  • यादें ताजा रहती है
  • भावनाये मजबूत होती है

लेकिन यदि आप एक परेशान करने वाले विचार के साथ बिस्तर पर जाते हैं, तो आपको लगेगा की डरावने सपने क्यों आते हैं लेकिन इसके विपरीत आप किसी समाधान के साथ जाग सकते हैं या कम से कम स्थिति के बारे में बेहतर महसूस कर सकते हैं। इसलिए हमे पूरी रात सपने क्यों आते हैं, ये उसका एक सुखद परिणाम भी है। 

इसलिए कभी-कभी कुछ सपने हमारे दिमाग को हमारे विचारों और दिन की घटनाओं को हल करने में हमारी मदद करते हैं। बाकि अन्य सपने सामान्य मस्तिष्क गतिविधि का परिणाम हो सकते हैं और कुछ का कोई मतलब ही नहीं होता है। लेकिन शोधकर्ता अभी भी यह पता लगाने की कोशिश कर रहे हैं कि पूरी रात सपने क्यों आते हैं या रात को नींद में सपने क्यों आते हैं?

पूरी रात सपने क्यों आते हैं

पूरी रात सपने क्यों आते हैं और कब आते हैं?

REM (रैपिड आई मूवमेंट) नींद रात के शुरुआती कुछ मिनटों के लिए ही होती है, लेकिन जैसे-जैसे हम सोते हैं, यह लंबी होती जाती है। लेकिन रात में, यह 30 मिनट से अधिक समय तक चल सकता है। यानिकि आप एक सपने में आधा घंटे तक का समय बिता सकते हैं।

सपने क्यों आते हैं – इसका क्या मतलब है?

प्रसिद्ध मनोवैज्ञानिक सिगमंड फ्रायड का सपने क्यों आते हैं इसे लेकर ऐसा मानना था कि सपने हमारे अवचेतन मन की एक खिड़की की तरह होते हैं और ये हमे उस व्यक्ति के बारे में बताते हैं, जैसे:

  • उसकी अचेतन इच्छाएँ क्या है 
  • उसके विचार कैसे है 
  • उसकी मंशा क्या है 

लेकिन फ्रायड ने आगे बताया की पूरी रात सपने क्यों आते हैं, वैसे सपने लोगों के आग्रह और उनकी इच्छाओं को जाहिर करने का एक तरीका है जो कभी-कभी समाज के लिए स्वीकार्य भी नहीं होते।

जिस तरह पूरी रात सपने क्यों आते हैं या कहे कभी कभी हम सपने क्यों देखते हैं, इसके बारे में अलग-अलग राय हैं, वैसे ही सपने क्या हैं, इसके बारे में भी अलग-अलग राय हैं। कुछ विशेषज्ञों का कहना है कि सपनों का हमारी वास्तविक भावनाओं या विचारों से कोई संबंध नहीं होता है। वे केवल अजीबोगरीब कहानियाँ हैं जिनका सामान्य जीवन से कोई संबंध नहीं है।

सपने क्यों आते हैं, इसपर दूसरों का कहना है कि हमारे सपने हमारे अपने विचारों और भावनाओं को प्रतिबिंबित कर सकते हैं – ये हमारी गहरी इच्छाएं, भय और चिंताएं को दर्शाते है, विशेष रूप से ऐसे सपने जो बार-बार आते हैं। इसलिए जब भी हम यह सोचे की पूरी रात सपने क्यों आते हैं तो हम अपने सपनों की व्याख्या करके, अपने जीवन और अपने आप में अंतर्दृष्टि को प्राप्त कर सकते हैं। क्योंकि बहुत से लोग यह दावा करते हैं कि वे अपने सपनों से सबसे अच्छे विचार लेकर आते हैं।

अक्सर, लोग डरावने सपने क्यों आते हैं इसकी रिपोर्ट करते हैं: जैसे उनका पीछा किया जा रहा है, वह एक चट्टान से गिर गये हैं, या वे सार्वजनिक रूप से स्वयं को नग्न देखते हैं। इस प्रकार के सपने शायद छिपे हुए तनाव या चिंता के कारण दिखाई देते हैं। सपने क्यों आते हैं क्या सपने एक जैसे हो सकते हैं, इसपर विशेषज्ञों का कहना है कि सपने के पीछे का अर्थ प्रत्येक व्यक्ति के लिए अलग-अलग होता है।

विशेषज्ञों का कहना है पूरी रात सपने क्यों आते हैं इसके लिए किताबों या “सपनों के शब्दकोशों” पर भरोसा न करें, जो एक विशिष्ट सपने की छवि या प्रतीक के लिए एक विशिष्ट अर्थ देते हैं। क्योंकि आपके सपने के पीछे का कारण आपके लिए अनूठा हो सकता है।

डरावने सपने क्यों आते हैं? 

डरावने सपने क्यों आते हैं और कई बार ऐसे सपने सच हो जाते हैं या भविष्य में होने वाली किसी घटना के बारे में हमे बता देते हैं। जब आपका कोई डरावना सपना वास्तविक जीवन में सामने आता है, तो इसपर विशेषज्ञों का कहना है कि सबसे अधिक संभावना है:

पूरी रात सपने क्यों आते हैं

  • यह एक संयोग है 
  • या कोई बुरी यादे है 
  • किसी ज्ञात जानकारी का एक अचेतन लिंक हो सकता है 

लेकिन कभी-कभी, सपने आपको एक निश्चित तरीके से कार्य करने के लिए प्रेरित कर सकते हैं, जिससे भविष्य बदल जाता है। इसलिए कभी-कभी पूरी रात सपने क्यों आते हैं, उसे लेकर सजग रहना चाहिए। 

अक्सर पूछे जाने वाले प्रश्न 

Q:- बहुत ज्यादा सपने क्यों आते हैं?

A:- काम के तनाव की वजह से पूरी तरह से नींद नहीं आती है, इसलिए नींद के अधूरेपन के बीच जब व्यक्ति गहरी नींद या रैपिड आई मूवमेंट (REM) नींद की स्थिति में होता है तो उस समय बहुत ज्यादा सपने आते है। 

Q:- सपने आना कैसे बंद करे?

A:- ज्योतिष के अनुसार यदि आपको पूरी रात सपने क्यों आते हैं और अधिकतर डरावने सपने आते है तो इसके लिए आप अपने बिस्तर के सिरहाने में मोरपंख रखें, इससे आपको बुरे सपने आने बंद हो जायेगे। 

Q:- दोपहर में सपने क्यों आते हैं

A:- दोपहर की नींद से पहले आपका मस्तिष्क बहुत सक्रिय होता है, जिससे आपके मस्तिष्क में दैनिक तनाव और स्मृतियों का भंडार होता जो कई बार हमारे मस्तिष्क को उत्तेजित कर देता और वही तनाव सपनों में बदल जाता है।

Q:- दिन में सपने क्यों आते हैं?

A:- मनोविज्ञान के अनुसार, दिन में सपने क्यों आते हैं यह अक्सर भविष्य को लेकर चिंता का परिणाम होता है हम जो पाने की कोशिश करते है वही हम दिन में सपने के रूप में देखते है।

Q:- उल्टे-सीधे सपने क्यों आते हैं?

A:- वास्तु शास्त्र के अनुसार उल्टे-सीधे सपने क्यों आते हैं? इसका एक कारण सोने की दिशा का सही ना होना भी हो सकता है। अगर आपके सोने की दिशा सही नहीं है तो भी आपको उल्टे सीधे सपने आ सकते है।

अंत में निष्कर्ष 

हमे पूरी रात सपने क्यों आते हैं, इसे लेकर कई सिद्धांत हैं, लेकिन इस विषय को को पूरी तरह से समझने के लिए और अधिक शोध की आवश्यकता है। केवल एक ही परिकल्पना को सही नहीं माना जा सकता है। इसलिए सपने क्यों आते हैं, यह कई तरह के हमारे उद्देश्यों की पूर्ति भी करते हैं।

यह जानते हुए कि हम सपने क्यों देखते हैं, इस बारे में अभी बहुत कुछ अनिश्चित है, हम अपने सपनों केवल उस परिदर्शय में देखने के लिए अच्छा महसूस करते हैं जो हमारे साथ सबसे अच्छी तरह से प्रतिध्वनित होता हो।

यदि फिर भी आप अपने सपनों के बारे में चिंतित हैं की आपको पूरी रात सपने क्यों आते हैं या बार-बार डरावने सपने क्यों आते हैं, तो आप अपने डॉक्टर से बात करने या किसी नींद विशेषज्ञ से परामर्श करने पर जरूर विचार करें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here