सर्च इंजन क्या है और कैसे काम करता है? [6 Best सर्च इंजन]

0
100
Search Engine क्या है
सर्च इंजन क्या है, यह कैसे काम करता है। आज का युग Technology का है, इसलिए हम सभी जानकारी को प्राप्त करने के लिए टेक्नोलॉजी पर ही निर्भर है। इसी Technology का एक रूप है सर्च इंजन जिसने Information को एक रफ़्तार प्रदान की है। इसी Information ने मानव जीवन को एक नई दिशा भी दी है।
 
Human Mind केवल अपनी सीमित Capacity के साथ ही Information को Store कर सकता है। शायद इन्ही असीमित Information को Store करने के लिये एक ऐसे Device या Application की जरुरत थी जो आवश्यकता के अनुसार तुरंत उसे Available करा सके और कही पर भी बिना किसी रूकावट के और यही सर्च इंजन के डेवलपमेंट का एक कारण है?  

सर्च इंजन क्या है? What is Search Engine in Hindi?

सर्च इंजन क्या है आईये सर्च इंजन को समझते है, Search Engine एक सॉफ्टवेयर सिस्टम है जिसे Web Search या Internet Search के लिए डिज़ाइन किया गया है, जिसका अर्थ है Text Web Search Query में किसी विशेष जानकारी के लिए World Wide Web को व्यवस्थित तरीके से खोजना। सर्च इंजन द्वारा प्राप्त Search Result आम तौर पर परिणामों की एक पंक्ति में प्रस्तुत किए जाते हैं, जिन्हें अक्सर Search Engine Results Page (SERPs) के रूप में संदर्भित किया जाता है।
सर्च इंजन क्या है
Search Results से प्राप्त ये सभी जानकारी, वेब पेजों, इमेजेस, वीडियो, इन्फोग्राफिक्स, लेखों, शोध पत्रों और अन्य प्रकार के लिंक का मिश्रण हो सकती है। वेब निर्देशिकाओं के विपरीत, जिनका रखरखाव केवल मानव संपादकों द्वारा किया जाता है, सर्च इंजन वेब क्रॉलर पर एल्गोरिथम का उपयोग करके वास्तविक समय की जानकारी भी बनाए रखते हैं। इंटरनेट सामग्री जो Web Search Engine द्वारा खोजे जाने में सक्षम नहीं है, उसे आमतौर पर Deep Web के रूप में वर्णित किया जाता है।  

सर्च इंजन का इतिहास क्या है? What is the History of Search Engine?

Search Engine details in hindi जानने के बाद अब इसके इतिहास को समझते है। सर्च इंजन के लिए सर्वप्रथम विचार 1945 में शुरू हुआ था। एक महान विचारक Vannevar Bush ने अपने एक Article “As We May Think” के द्वारा भविष्य में Information की Importance पर काफी जोर दिया और वैज्ञानिकों के लिए Magazines और Books में मिली जानकारी को किसी Device  मे Store करने का तरीका डिजाइन करने की आवश्यकता पर अपने विचार दिया।

यह सर्च इंजन के विकास का प्रथम विचार था। पहली बार अच्छी तरह से Well Documented Search Engine जिसने Content Files की खोज की, अर्थात् FTP Files , Archie था, जो की 10 सितंबर 1990 को शुरू हुआ। इसके बाद Available “All Text” Crawler पर आधारित WebCrawler नाम से 1994 में एक Crawler based Search Engine सामने आया। जिसने पहले के पूर्ववर्तियों के विपरीत, अपने उपयोगकर्ताओं को किसी भी Webpage में किसी भी शब्द की खोज करने की Facility प्रदान की, यह एक ऐसा सर्च इंजन था जिसे जनता द्वारा व्यापक रूप से जाना जाता था।

इसके अलावा 1994 में, Lycos जो Carnegie Mellon University में शुरू हुआ, Launch किया गया था और जो एक प्रमुख Commercially Use का साधन बन गया।

सर्च इंजन क्या है
Web पर पहला लोकप्रिय Search Engine Yahoo था, जिसे 1994 में Jerry Yang और David Filo ने स्थापित किया था। Yahoo का पहला Product, Yahoo नामक एक Web Directory थी, जिसे 1995 में, एक Search Function से जोड़ा गया, जिससे उपयोगकर्ता Yahoo पर Topics को Search कर सके। इसके तुरंत बाद, कई सर्च इंजन दिखाई दिए और जो काफी लोकप्रिय भी थे। इनमें Magellan, Excite, Infoseek, Inktomi, Northern Light और AltaVista शामिल थे।
आप हमारे इन आर्टिकल्स को भी देख सकते है 

अगर बात करे गूगल की, गूगल के खोजकर्ता कौन थे तो मुख्यतः गूगल खोज का विकास 1997 में लैरी पेज और सेर्गेई ब्रिन ने किया था। Google ने goto.com नाम की एक छोटी सर्च इंजन कंपनी से 1998 में Search Terms को Commercially Use करने पर विचार किया। इस कदम से सर्च इंजन व्यवसाय पर एक महत्वपूर्ण प्रभाव पड़ा, जो Internet के सबसे Profitable Business बन गया। 

Google Company ने Page Rank के नाम से एक Algorithm को स्थापित किया तथा अपने सर्च इंजन में एक न्यूनतम Interface भी बनाए रखा, जिससे Google Search Engine इतना लोकप्रिय हो गया कि एक Mystery Seeker जैसे Shine करने लगा। अगर आज हम कहे की सबसे लोकप्रिय सर्च इंजन कौन सा है तो इसका जवाब केवल गूगल सर्च इंजन है। गूगल का पूरा नाम क्या है – G.O.O.G.L.E Full Form – Global Organization Of Oriented Group Language Of Earth  

सर्च इंजन कैसे काम करता है? How does search engine work? 

How does the Search Engine Works in hindi, एक सर्च इंजन वास्तविक समय में निम्नलिखित प्रक्रियाओं के अनुसार कार्य को करता है।

1.) Web crawling

2.) Indexing

3.) Ranking

  • Search Engine Crawling

Crawling एक Search की प्रक्रिया है जिसमें सर्च इंजन नई और अपडेट सामग्री को खोजने के लिए Robot (Crawler या Spider के रूप में जाना जाता है) की एक टीम भेजते हैं। सामग्री भिन्न हो सकती है – यह एक वेबपेज, एक छवि, एक वीडियो, एक पीडीएफ आदि भी हो सकती है – लेकिन प्रारूप की परवाह किए बिना, सामग्री लिंक द्वारा Search की जाती है। 

Googlebot कुछ वेब पेजों को लेकर शुरू करता है, और फिर नए URL Search के लिए उन वेबपेजों के लिंक का अनुसरण करता है। लिंक के इन्ही रास्तो का अनुसरण करते हुऐ, क्रॉलर नई सामग्री ढूंढने में सक्षम होता है जिसे कैफीन कहते है तथा इसे अपने इंडेक्स में जोड़ देता है – Search किये गए URL का एक विशाल डेटाबेस – बाद में पुनर्प्राप्त किया जा सकता है।

  • Search Engine Indexing

सर्च इंजन उन सूचनाओं को संसाधित और संग्रहीत करते हैं जो उन्हें एक अनुक्रमणिका में मिलती हैं, जो उनके द्वारा खोजी गई सभी सामग्री का एक विशाल डेटाबेस है और खोजकर्ताओं की सेवा करने के लिए पर्याप्त है।

  • Search Engine Ranking

जब कोई Search करता है, तो सर्च इंजन अत्यधिक प्रासंगिक सामग्री के लिए उनकी सूची को बनाता हैं और फिर खोजकर्ता की Query के आधार पर सबसे उपयुक्त सामग्री को प्रस्तुत करता हैं। प्रासंगिकता के आधार पर Search Results के इस क्रम को रैंकिंग के रूप में जाना जाता है। सामान्य तौर पर, आप यह मान सकते हैं कि किसी वेबसाइट की रैंक जितनी अधिक होगी, Search Engine उतना ही प्रासंगिक होगा कि उस साइट से सम्बंधित Query के लिए है।

सर्च इंजन का सर्च प्रोसेस क्या है? What is the search process of search engines?

सर्च इंजन कैसे काम करता है इसे समझने के बाद सर्च इंजन के प्रोसेस को हम चार स्टेप्स में समझ सकते है –

  • Step 1 (Search)

सर्च इंजन सबसे पहले आपके द्वारा Type Keywords को समझता है की आप क्या चाहते हो फिर उसमे कुछ समानार्थक शब्दों (Synonyms) को उसमे Add करता है, जिन्हे “tastiest treats” कहते है और ये सब आपके Typing शुरू करने से लेकर खत्म होने तक के बिच मे होता है। उसके बाद सर्च इंजन अपने Algorithms (Mathematical Formulas) का Use करता है की वास्तव मे आप क्या Search कर रहे हो।

  • Step 2 (Sort)

यहाँ आपके Type किये हुऐ Words को समझकर सर्च इंजन के Server को भेजी जाती है, जहाँ पर दुनिया की तमाम जानकारी जैसे Words, Video, Songs, Photos और ऐसी बहुत सी जानकारी जो World Wide Web पर बिखरी होती है जो लगातार Collect और Updated होती रहती है “Spiders” के द्वारा उन्हे Crawl करके सही In-formations को चुना जाता है।

  • Step 3 (Collect)

अब सर्च इंजन उन सभी Index के रूप मे प्राप्त जानकारी को आपके Type किये हुऐ शब्दों से Match करता है, फिर उन सभी जानकारियों को जो हजारो की संख्या मे होती है उनको Filter करता है जो की Page मे लिखे Content उसकी Publishing Date, उस पर कितने लोगो ने Visit किया है, उसकी Reliability और ऐसे ही कई मापदंडो पर परखकर उस Data को Collect करता है।

सर्च इंजन क्या है

  • Step 4 (Voila!) 

अब अंत मे Collect की हुई सभी जानकारी सर्च इंजन द्वारा Decided Values के द्वारा आपके Web Page पर Links के रूप मे दिखाई देती है। जहा से आप उन Links के द्वारा अपनी जानकारी को प्राप्त कर लेते है।

सर्च इंजन कितने प्रकार के होते है? How many types of search engines?

सर्च इंजन कितने प्रकार के होते है आइये जानते है, आज मौजूदा 6 प्रकार के सर्च इंजन होते है, जिनको हम उनके काम करने के तरीके के आधार पर उन्हें 6 Categories में बांट सकते है –
 
1.) Crawler Based Search Engines
2.) Directory Based Search Engines
3.) Hybrid Search Engines
4.) Meta Search Engines
5.) Specialty Search Engines
6.) General Search Engines 
  • Crawler Based Search Engines

Crawler based Search Engine, यह वो सर्च इंजन होते है जो सिर्फ और सिर्फ Computer Programs (जिन्हें Spiders, crawlers या bots भी कहते हैं) के द्वारा ही ऑपरेट होते है। इन्हे Crawler Based Search Engine कहा जाता है। उदाहरण- ask.com
  • Directory Based Search Engines

Directory Based Search Engines, यह वह सर्च इंजन होते है जिनमें केवल कुछ लोगों की बनाई गई एक team के द्वारा select की गई वेबसाइटें को दिखाया जाता हैं इनमें कोई भी वेबसाइट Automatically शो नहीं होती है। इसलिये इन्हे Directory Based Search Engines कहा जाता है।
  • Hybrid Search Engines

Hybrid Search Engines, जो Search Engine crawlers/bots के साथ-साथ Human द्वारा Selected चीजों का भी इस्तेमाल करते हैं उन्हें Hybrid Search Engines कहा जाता है। जैसे- Google, Yahoo
  • Meta Search Engines

Meta Search Engines, यह वह सर्च इंजन होते है, जो लाखों वेबसाइटों को अपने database में नहीं रखते हैं। बल्कि जो लोग कोई चीज इनमे Search करते हैं तो यह Google और Yahoo जैसे बड़े Search Engines की मदद से उस चीज को Search करके उन लोगों को दिखाते हैं इन्हें Meta Search Engines कहाँ जाता है। उदाहरण- DuckDuckGo, DogPile
  • Specialty Search Engines

Specialty Search Engines, यह सर्च इंजन किसी एक खास Area की Demand को Cater करने के लिए बनाया जाता। जैसे- Local Search Engine (Just Dial), Shopping Search Engine (Yahoo Shopping).
  • General Search Engine

General Search Engine जो एक प्रकार से Crawler Based सर्च इंजन भी कहते है। जिनका उपयोग किसी विशेष सर्च परिणाम के लिए किया जाता है। इन सर्च इंजन में हम किसी भी Query को बड़ी आसानी से खोज सकते है। General Search Engines के उदहारण है Google तथा Bing.आप हमारे इन आर्टिकल्स को भी देख सकते है 

आप हमारे इन आर्टिकल्स को भी देख सकते है   

Indian Search Engine कौन से है?

भारत का सर्च इंजन क्या है? जी “हाँ!” हमारे देश भारत के पास भी कुछ सर्च इंजन मौजूद हैं लेकिन वे Google की तरह अधिक Developed नहीं हैं यही कारण है की वो लोगों के बीच में बहुत ज्यादा Popular नही हुऐ हैं और बहुत ही कम लोग इनके बारे में जानते हैं। भारत का पहला सर्च इंजन कौन सा है तो इसका जवाब है guruji.com जिसे IIT Delhi के दो स्टूडेंट्स अनुराग डोड और गौरव मिश्रा ने 2006 में एक साथ मिलकर बनाया था। अब जानते है भारत के सर्च इंजन कौन से है, यहाँ हम कुछ सर्च इंजन की List Provide कर रहे है

  • QMAMU
  • 123Khoj
  • Epic Search
  • Bhanvad
  • GISASS
  • Guruji
  • Bilsir 
  • Rediff 
  • Justdial 

Google के अतिरिक्त Most Trusted डायरेक्टरी सर्च इंजन कौन से है? 

  • Bing 
  • Yandex
  • CC Search
  • Swisscows
  • DuckDuckGo
  • StartPage
  • Search Encrypt
  • Gibiru
  • OneSearch
  • Wiki.com
  • Boardreader
  • GiveWater
  • Ekoru
  • Ecosia
  • Twitter
  • SlideShare
  • Internet Archive 

अंत में निष्कर्ष 

सर्च इंजन जो एक प्रकार से Super Brains की तरह काम करता है जो आपके शब्दों को समझ कर तुरंत उससे सम्बंधित सभी जानकारियों को उपलब्ध करा देता है। इसे साधारण भाषा मे समझे तो यह इस प्रकार है जैसे आप किसी Restaurant मे जाकर किसी Dish का नाम लेते है तो Waiter आपके सामने पूरा Menu Card रख देता है, जिसमे उस तरह की कई Dishes होती है और आप अपनी पसंद की चीज को चुन लेते है। उम्मीद है की आप समझ गए होंगे की सर्च इंजन क्या है और यह कैसे काम करता है?
आप हमारे इन आर्टिकल्स को भी देख सकते है