डीमैट अकाउंट बंद कैसे करे – जाने पूरा प्रोसेस हिंदी में।

0
71
डीमैट अकाउंट बंद कैसे करे
डीमैट अकाउंट बंद कैसे करे

आज का हमारा विषय है की अपना डीमैट अकाउंट बंद कैसे करे, वैसे डीमैट अकाउंट या डीमैटेरियलाइज्ड अकाउंट ज्यादातर लोगों के लिए पैसे कमाने का एक शानदार तरीका होता है। शेयर बाजार में व्यापार करने वाले सभी निवेशकों के लिए ऑनलाइन डीमैट अकाउंट होना अनिवार्य है।

लेकिन यदि आप अपने डीमैट अकाउंट का प्रयोग नहीं कर पा रहे है तो उसे बंद कर देना ही उचित होगा नहीं तो आपको उसका मासिक मैंटीनेन्स चार्ज देना पड़ेगा। उससे अच्छा की उसे बंद कर दिया जाये ताकि आप मासिक मैंटीनेन्स शुल्क देने से बच जायेगे।

डीमैट अकाउंट बंद कैसे करे  

सेबी के मुताबिक, देश में करीब 44.46 करोड़ डीमैट अकाउंट हैं। वैसे डीमैट अकाउंट कुछ नहीं बल्कि शेयरों और प्रतिभूतियों को रखने के लिए एक इलेक्ट्रॉनिक अकाउंट मात्र है। आज बढ़ती अर्थव्यवस्था के साथ, अधिक से अधिक लोग स्टॉक एक्सचेंज ट्रैडिंग में जाना चाहते हैं।

हालाँकि, SEBI के अनुसार आज जीतने डीमैट अकाउंट है उसमे से लगभग 75% अकाउंट निष्क्रिय हैं। इसलिए एक अप्रयुक्त डीमैट अकाउंट वित्तीय संस्था पर एक भार की तरह है जो वार्षिक शुल्क और रखरखाव शुल्क को आकर्षित करता है। इसलिए, अनावश्यक व्यय से बचने और अपने डीमैट अकाउंट बंद कर देना एक अच्छा विचार है। इसलिए डीमैट अकाउंट बंद कैसे करे इस पर बात करेगे।  

डीमैट अकाउंट बंद कैसे करे उसके दो प्रकार हैं:

डीमैट अकाउंट बंद करना: जब निवेशकों के खाते में कोई भुगतान या होल्डिंग बकाया नहीं है, तो डीमैट खाते को ऑनलाइन बंद करने के लिए संबंधित डिपॉजिटरी पार्टनर (डीपी) से अनुरोध किया जा सकता है।

ट्रांसफर और डीमैट अकाउंट बंद करना: यदि लंबित प्रतिभूतियां हैं जिन्हें दूसरे डीमैट खाते में स्थानांतरित करने की आवश्यकता है तो प्रक्रिया थोड़ी अलग है।

आप हमारे इन आर्टिकल्स को भी देख सकते है 

डीमैट अकाउंट बंद कैसे करे
डीमैट अकाउंट बंद कैसे करे

डीमैट अकाउंट बंद कैसे करे – उसकी प्रक्रिया 

अकाउंट निष्क्रिय होने की स्थिति में डीमैट अकाउंट बंद करने की प्रक्रिया:

स्टेप 1 – सबसे पहले अपने डिपॉजिटरी पार्टिसिपेंट (बैंक या निवेश एजेंसी) की वेबसाइट पर जाकर वहा से डीमैट अकाउंट बंद करने का फॉर्म डाउनलोड करें।

स्टेप 2 – अब उस फॉर्म को सही-सही भरें और अपने सभी संबंधित केवाईसी दस्तावेजों के साथ उसे जमा करें। यह सुनिश्चित करें कि सभी प्रमाण पत्र मान्य हो। डीमैट अकाउंट बंद कैसे करे इस चरण में आप अपने निकटतम डीपी कार्यालय में अपने प्रपत्रों और दस्तावेजों को भौतिक रूप से भी जमा कर सकते है या फिर उन्हें संबंधित प्रधान कार्यालय में डाक के द्वारा भी भेज सकते है।

स्टेप 3 – यदि आप एक से अधिक व्यक्ति डीमैट अकाउंट रखते हैं तो उस स्थिति में आपको अपने डीपी के एक अधिकारी की उपस्थिति में अकाउंट क्लोजर फॉर्म पर हस्ताक्षर करने होंगे।

स्टेप 4 – डीमैट अकाउंट बंद कैसे करे इस प्रोसेस में यह सुनिश्चित जरूर करें कि आपके डीमैट अकाउंट में कोई शेयर नहीं हो और इसमें ऋणात्मक शेष भी नहीं हो। इसलिए अपने अकाउंट में लॉग इन करके पहले चेक कर ले।

डीमैट अकाउंट को ट्रांसफर करने के मामले में डीमैट खाते को बंद करने की प्रक्रिया:

स्टेप 1 – भारत में दो नैशनल डेपोजिटर, एनएसडीएल और सीडीएसएल हैं। इंट्रा-डिपॉजिटरी ट्रांसफर के मामले में, डीमैट अकाउंट बंद कैसे करे उसके लिए एक इंट्रा डीआईएस स्लिप की आवश्यकता होगी और डीमैट अकाउंट में ‘ऑफ-मार्केट ट्रांसफर’ विकल्प भी चुना जाना चाहिए।

स्टेप 2 – उसके बाद आपको लोगो, मोहर और हस्ताक्षर के साथ मूल सीएमएल (ग्राहक मास्टर सूची) को अपने डीमैट अकाउंट से प्राप्त करना होगा।

स्टेप 3 – इसके बाद, आप सभी प्रासंगिक विवरण और शेयरों के नामों के साथ भरा हुआ फॉर्म, जिसे आप दूसरे आईएसआईएन के साथ ट्रांसफर करना चाहते हैं, उसका उल्लेख करे। अब आपको 16 – वर्ण का आईडी कोड भी बताना होगा।

स्टेप 4 – अब आप इन सभी दस्तावेजों को आपके डीपी कार्यालय में जमा कर दे या इन सभी डॉक्युमेंट्स को अपने डीपी के प्रधान कार्यालय में डाक के द्वारा भेज दे।

स्टेप 5 – डीमैट अकाउंट बंद कैसे करे उसके लिए अब बैंक अधिकारी के लिए सेल्फ अटेस्टेड डीमैट क्लोजर फॉर्म को सत्यापित करना भी अनिवार्य है।

आप हमारे इन आर्टिकल्स को भी देख सकते है 

डीमैट अकाउंट बंद कैसे करे
डीमैट अकाउंट बंद कैसे करे

आपको डीमैट खाता बंद क्यों नहीं करना चाहिए

एक बार जब आप ऑनलाइन डीमैट अकाउंट खोल लेते हैं, तो आपको शेयर मार्केट में व्यापार करने और अपनी संपत्ति को इलेक्ट्रॉनिक रूप में सुरक्षित तरीके से स्टोर करने का साधन मिल जाता है। लेकिन यदि आप अपने अकाउंट में कोई स्टॉक नहीं रख रहे हैं, तो आप अपने डीमैट खाते को बंद करने के बारे में सोच सकते हैं। उसके लिए डीमैट अकाउंट बंद कैसे करे इसके प्रोसेस को फॉलो कर सकते है। 

क्योंकि यदि आपके पास एक निष्क्रिय डीमैट अकाउंट है, तो इसे बंद कर देना चाहिए। आज निवेश का क्षेत्र आज बहुत व्यापक है, और शेयर मार्केट में निवेश करने के कई तरीके उपलब्ध हैं। वैसे आप डीमैट अकाउंट बंद कैसे करे, तो इसे बंद करने से पहले दो बार जरूर सोचें। क्योंकि जब आप अपना अकाउंट बंद करते हैं हो सकता है उस समय बाजार में मंदी हो, लेकिन भविष्य में इसमें तेजी आ सकती है।

कई ऐसी घटनाएं होती है जो बाजार के उतार-चढ़ाव को काफी प्रभावित कर सकती हैं। उस स्थिति में एक निवेशक के रूप में आपको अपना डीमैट अकाउंट बंद करने पर पछतावा हो सकता है क्योंकि जब शेयर की कीमतें सही होती हैं उस समय तुरंत निर्णय लेने की आवश्यकता होती है और आप शेयर बाजार में अधिक से अधिक निवेश नहीं कर सकते हैं।

शेयर मार्केट का सकारात्मक रुख आपका नजरिया बदल सकता है। इसलिए डीमैट अकाउंट का बंद करने का अर्थ है शेयर बाजार में निवेश के सभी अवसरों को समाप्त करना। वैसे डीमैट अकाउंट बंद कैसे करे उसका प्रोसेस आपको बता ही दिया गया है। आपका डीमैट अकाउंट केवल आपके शेयर को ही नहीं, बल्कि आपकी अन्य संपत्तियां जैसे ईटीएफ (एक्सचेंज ट्रेडेड फंड्स), सरकारी प्रतिभूतियां, बांड आदि को भी स्टोर करके रखता है। इसलिए, डीमैट अकाउंटस को सक्रिय रखना चाहिए।

अंत में निष्कर्ष

हालांकि डीमैट अकाउंट को पूरी तरह से ऑनलाइन बंद नहीं किया जा सकता है, लेकिन डीमैट अकाउंट बंद कैसे करे उसकी औपचारिकताओं को ऑनलाइन पूरा करके इस प्रोसेस को आसान बनाया जा सकता है। लेकिन उससे पहले यह जांचना जरूरी है कि आपके डीमैट अकाउंट में कोई अतिदेय शुल्क, दंड या शेयर लंबित ना हो। किसी भी शेयर या अकाउंट को ट्रांसफर करते समय, किसी भी गलती या चूक से बचने के लिए अपने सभी विवरण की जांच जरूर करे।

आप हमारे इन आर्टिकल्स को भी देख सकते है